सूरत : मॉर्निंग वॉक पर निकले व्यापारी ने पेड़ से लटकर फांसी खाई, पार्टनरशिप फर्म भंग करने को लेकर हुआ था विवाद

फोन के आधार पर हुई मृतक की पहचान

व्यापारी के समय पर घर नहीं पहुंचने से परिजन जांच करने फोन किया तो सामने से पुलिस ने कहा कि उसने तो फांसी लगा ली है

खरवासा रोड पर खेत में पेड़ से रस्सी बांधकर फांसी लगा ली
सूरत के सचिन-खरवासा चिकुवाड़ी में कढ़ाई मशीन के एक व्यापारी ने पेड़ से लटककर आत्महत्या कर ली। सुबह की सैर के दौरान कारोबारी के समय पर घर नहीं आने पर चिंतित परिवार ने फोन करने पर पुलिस ने कहा की उसने आत्महत्या करने की प्राथमिक जानकारी दी। साढुभाई ने कहा कि 3 साल तक बिजनेस पार्टनर के साथ विवाद के बाद फर्म का विघटन हो गया, अब केवल हिसाब-किताब बचा है।
सचिन पुलिस ने बताया कि सूचना मिली थी कि खरवासा के नितेश ईश्वरभाई देसाई के खेत में एक युवक ने नाइलोन की रस्सी को पेड़ से बांधकर फांसी लगा ली है। पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक नवीन शर्मा व अन्य के फोन कॉल के आधार पर जांच की। मृतक 38 मानसरोवर डिंडोली से होने का पता चला था। फिलहाल पुलिस आत्महत्या की जांच कर रही है। पुलिस ने मौके से  मृतक की कार, एक बैग में छाता, पहचान पत्र और चप्पल बरामद किया है।
प्रिया दर्शन (साढुभाई) ने बताया कि बिहार के मूल निवासी नवीनभाई 20 साल से सूरत में रह रहे है । कढ़ाई मशीन बेचने के व्यवसाय के साथ एक साझेदारी फर्म में काम किया। 3 साल पहले पार्टनर से विवाद के चलते दोनों अलग हो गए थे। जो कुछ बचा था उसका हिसाब होना था। नवीनभाई ने  5 महीने से अपना कारोबार शुरू किया। अच्छा कारोबार चल रहा था। रोज मॉर्निंग वॉक पर जाते थे वे समय पर आते थे। आज घर न आने से परिजन परेशान थे। फोन पर कॉल करने के बाद उन्हें ऐसी दुखद घटना की जानकारी मिली।​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​​

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें