गुजरात की यह डेयरी खोलने जा रही है वाराणसी में अपना प्लांट, 51 बीघा जमीन की गई आवंटित

(Photo Credit :sandesh.com)

500 करोड़ के प्लांट में हर दिन प्रोसेस होगा 5 लाख लीटर दूध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को राज्य के नए बनास डेयरी प्लांट के लिए 51 बीघा जमीन आवंटित की गई है। वाराणसी, उत्तर प्रदेश में 500 करोड़ रुपये का बनास डेयरी प्लांट स्थापित किया जा रहा है, जिसमें प्रतिदिन 5 लाख लीटर दूध की प्रसंस्करण क्षमता है। बनास डेयरी के चेयरमैन शंकर चौधरी के साथ ही डेयरी की टीम उस स्थल का दौरा करने पहुंची जहां प्लांट लगाया जाना है।
शंकर चौधरी के मुताबिक जमीन पर पांच लाख लीटर का दूध के प्रसंस्करण संयंत्र लगाये जाएंगे। इससे न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि बनासकांठा के पशुचारकों को भी लाभ होगा। बनास डेयरी के अध्यक्ष ने राज्य कॉर्पोरेशन इंडस्ट्रीयाल द्वारा भूमि आवंटित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया। शंकर चौधरी ने आगे कहा कि बनास डेयरी गुजरात के बाहर भी अपनी पहचान बनाने को तैयार है बनास डेयरी के वर्तमान में उत्तर प्रदेश में दो पसंद है, एक लखनऊ में और दूसरा कानपुर में है।
इससे पहले मुख्यमरी योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि लखनऊ वाराणसी, अयोध्या मेरठ बरेली मुरादाबाद, गोरखपुर और फिरोजाबाद सहित उत्तर प्रदेश में आठ स्थानों पर ग्रीन डेयरी स्थापित की जाएगी। साथ ही प्रयागराज, झाँसी, नोइडा और अलीगढ़ की पुरानी डेयरी को भी अपग्रेड किया जा रहा है। इसके अलावा गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी द्वारा दूध उत्पादकों को उनके निवास स्थान पर ही बोनस वितरण किया गया था। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें