प्यार में पागल पुत्र को पिता की बात बुरी लगी, कर ली खुदकुशी

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

डिंडोली की युवती के साथ प्रेमसंबंध थे

सूरत में आत्महत्याओं का सिलसिला जारी है। कई बार बड़ों की बात बच्चे को बुरा लग जाती है, जिससे वे मन को बुरा लगाकर आत्महत्या करने तक का कदम उठा लेते है। ऐसा ही एक मामला डिंडोली में सामने आया है। कुछ दिनों से उदास रहने वाला और प्यार में पागल हुए बेटे को पिता ने समझाने की कोशिश की। पिता की बात का बुरा लगाकर बेटे फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।
स्मीमेर अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार डिंडोली निवासी 22 वर्षीय धर्मेद्र पोनाडा ने शनिवार दोपहर घर में फांसी लगा ली। वह मूल आंध्रप्रदेश का निवासी था और भटार की कंपनी में एकाउन्टन्ट की नौकरी करता था। उसकी मां और बहन प्रसंग होने से वतन गए थे। वह पिता के साथ घर में रहता था और दो -तीन दिन से उदास रहता था। नियमित खाना भी नहीं खाता था, जिससे पिता के पूछने पर उसने डिंडोली की युवती के साथ प्रेमसंबंध की बात कहीं थी। जिससे पिता ने युवती के परिवार से बातचीत की थी और धर्मेद्र को फिलहाल आपकी शादी की उम्र नहीं है, कामधंधे पर ध्यान केंद्रीत करना चाहिए ऐसा समझाया। इस बात का बुरा लगाकार युवक ने यह कदम उठाया।  युवक के पिता पांडेसरा कंपनी में सिविल इंजीनियर के तौरपर कार्यरत है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें