सूरत : मासूमों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं को लेकर पुलिस की अनोखी पहल, बच्चों को दी गुड टच बैड टच की जानकारी

घर में महिलाओं के साथ-साथ बच्चों के खिलाफ हिंसा के बारे में बताया गया।

सचिन के झुग्गी-झोपड़ी और परप्रांतीय बाहुल्य इलाकों के बच्चों को जानकारी दी गई

सूरत में बालकों के साथ दुष्कर्म  की गंभीर घटनाएं दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। बालकों के साथ अन्याय न हो और हो तो उसे कैसे रोकने का प्रयास करे और अभिभावकों एवं परिजनों को किस तरह जानकारी दे इस संदर्भ में  जागरूकता फैलाने के लिए सचिन क्षेत्र में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें बच्चों और महिलाओं को जागरुक करने के लिए बैड टच और गुड टच की जानकारी दी गई। पुलिस टीम द्वारा स्लम व परप्रांतीय बच्चों व महिलाओं को  हेल्पलाइन का प्रयोग करने का भी निर्देश दिया गया।
सूरत शहर के पुलिस आयुक्त के आदेश के बाद सचिन पुलिस की ओर से सचिन के स्लम और परप्रांतिय के साथ-साथ  मजदूर वर्ग के आवासीय इलाकों में एक सेमिनार का आयोजन सचिन पुलिस की ओर से पारडी क्षेत्र में किया गया था। जिसमें बालकों को गुड़ टच बैड टच के बारे में जानकारी दी गई। साथ ही अगर कोई आपको गलत जगह छूता है तो उसका विरोध कैसे करें और 1098 हेल्पलाइन पर शिकायत कैसे करें, आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। 
बालकों के साथ ही साथ घरों में  महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा में भी 181 हेल्पलाइन सरकार द्वारा चलाई जा रही है।  जिसमें महिलाएं अपने ऊपर हो रहे अत्याचार के खिलाफ न्याय के लिए आवाज उठा सकती हैं। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर चोकबाजार थाने की बाल कल्याण अधिकारी वैशाली देवर उपस्थित थीं। साथ ही पीएसआई एस.ए. देसाई, पी.एस.आई.एस.ए. संगाडा सहित अनेक लोग उपस्थित रहे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें