सूरत : गरबा मामले में उमरा पीआई का तबादला, दो पुलिसकर्मी निलंबित

उमरा पुलिस थाने की फाईल तस्वीर

युनिवर्सिटी केम्पस में बिना परमिशन के घुंसकर छात्रों पर डंडे बरसाने वाले उमरा पुलिसथाने के कर्मचारीओँ पर पुलिस आयुक्त ने कडी कार्यवाही की।

एबीवीपी छात्रों की मांग पर पुलिस आयुक्त ने कि कार्यवाही 
वीर नर्मद दक्षिण गुजरात युनिवर्सिटी में गरबा खेलने की बात को लेकर उमरा पुलिस और एबीवीपी छात्रों के बीच हुए घर्षण के चलते पुरे शहर में आक्रोष का महोल बना है। पुलिस आयुक्त ने उमरा पीआई और पीएसआई का तबदला करने और दो पुलिसकर्मी को निंलंबित करने का आदेश दिया है। 
उमरा पुलिस और एबीवीवी छात्रो के बीच हुए घर्षण के बाद राजनैतिक दबाव में आकर पुलिस ने एबीवीपी छात्र नेताओं से माफी मांगी थी। गृह मंत्री हर्ष संघवी के आदेश के बाद उमरा पुलिस ने गिरफ्तार किए छात्रों को तत्काल छोड दिया था। उसके बाद भी छात्रों ने जब तक पुलिस अधिकारियों का निलंबन नही होता है तब तक आक्रमक कार्यक्रम की घोषणा की थी। गुरूवार को एबीवीवी छात्रों ने शहर की कॉलेजो को बंद कराकर शहर में चक्काजाम कीया था। शुक्रवार को राज्य के नवनियुक्त मुख्यमंत्री भुपेन्द्र पटेल पहली बार सूरत शहर में आ रहे है। ऐसी परिस्थिति के दौरान छात्रों का मामला अधिक तुल नही पकडे इस लिए पुलिस आयुक्त ने गुरूवार शाम को उमरा पीआई मोदी का विशेष शाखा में तबादला कर दिया। उमरा पीएसआई का भी तबादला कीया और दो पुलिसकर्मी को निलंबित करने का आदेश दिया। छात्रों की मांग अनुसार पुलिस आयुक्त ने पीआई , पीएसआई का तबादला और दो पुलिसकर्मीओं को निलंबित करने के बाद आज से यह मामला शांत हो जायेगा। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें