सूरत : कार को रोककर आंख में मीर्ची पावडर फेंककर 15 लाख रुपये लूटने के आरोप में दो गिरफ्तार

क्राईम ब्रान्च ने लूट में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार किया

पिछले सप्ताह शहर के सिटीलाईट रोड पर लूट के अपराध में शामिल आरोपियों को क्राईम ब्रांच ने गिरफ्तार किया

दुकान बिक्री के पैसे घर ले जाने की सूचना पर लूटपाट की गई थी
सूरत में सिटीलाइट रोड पर साइंस सेंटर के पास एक वैगनआर कार को रोककर उसमें सवार दादा पौत्र की आंख में मिर्ची पावडर फेंककर 15 लाख की लूट हई थी। इस लूट में शामिल दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से कुल 6.86 लाख रुपये नकद और जेवरात बरामद किए गए। डीसीबी की गिरफ्त में आया आरोपी साड़ी की दलाली करता था पुलिस जांच कररही है। 
डीसीबी पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि देवेंद्र उर्फ ​​बंटी शर्मा का भाई पशुपति मार्केट में मुकेशभाई राठी नाम के एक व्यापारी की दुकान पर काम करता था।  मुकेशभाई राठी ने एक अन्य व्यापारी से पशुपति मार्केट में एक दुकान खरीदी थी। जिसके एडवान्स बाना की रकम दी गई। शेष राशि का भुगतान एक माह बाद नकद में किया जाना था। मुकेश राठी दुकान के विक्रेता को यह राशि देने के बाद, व्यापारी राशि लेकर घर चला जाएगा तभी देवेंद्र के भाई ने देवेंद्र को फोन कर व्यापारी के बारे में जानकारी दी। मार्केट से फोन पर जानकारी दी तो पैसे लेकर जा रहे व्यापारी की कार सड़क पर रोककर उससे नकदी लूटने की योजना बनाई गई। देवेंद्र ने अपने दोस्त गौरव मनोहर बनकर को भी योजना के लिए गांव से सूरत बुलाया था।  24-25 नवंबर को विक्रेता पैसे लेकर अपने घर के लिए निकल गया लेकिन आरोपी उसे बीच में नहीं पकड़ पाया।  26 तारीख को  पशुपति मार्केट का दुकानदार  गाड़ी में पैसे  लेकर निकला होने की जानाकरी देवेन्द्र ने भाई को बतायी। देवेन्द्र तथा गौरव ए‍वं मोहमंद आजम के साथ प्लेजर मोपेड पर व्यापारी की रास्ते में राह देख रहे थे। व्यापारी का पशुपति मार्केट से उमरा खेतीवाड़ी फार्म से साइंस सेंटर रोड तक पीछा किया, खेतीवाड़ी फार्म के पास व्यापारी के वाहन के सामने मोपेड खड़ी की, व्यापारी और बगल में बैठे कार के चालक की आंख में मिर्ची पावडर डालकर गाड़ी से दो अलग अलग नकदी लूट ली। 26 तारीख की रात करीब आठ बजे सिटीलाइट साइंस सेंटर के पास लूट की घटना के बाद डीसीबी ने सीसीटीवी फुटेज के साथ जांच शुरू की तो सूचना मिली कि आरोपी देवेंद्र उर्फ ​​देवा ईश्वर शर्मा (उम्र 22)  तुमसर जी. अकोला (महाराष्ट्र) से गिरफ्तार किया है। जिससे नगद रु. 4.83 लाख के साथ-साथ गोल्ड चेन नंबर 1 और गोल्ड वीटी नं 2 सहित कुल  6.86 लाख रुपये मूल्य के मुद्दमाल को जब्त किया गया। आरोपी मोहम्मद आजम मोहम्मद फारूक अंसारी (उम्र 36) को उधना मेन रोड एपी मार्केट के पास से गिरफ्तार किया गया। उसके बैग से मेहसाणा अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक और  बैंक ऑफ बड़ौदा की चेंकबुक  दो पासबुक और एक नोटबुक और दो डायरी और फाइल / बिल आदि जब्त किए गए। मुद्दामल के साथ वीवो कंपनी का मोबाइल फोन जब्त किया गया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें