सूरत : छात्रावास के आसपास असामाजिक तत्वों का आतंक, पीछा कर करते हैं गंदे इशारे

छात्राओं ने मोर्चा लेकर उमरा थाने पहुंची

वीर नर्मद साउथ गुजरात यूनिवर्सिटी हॉस्टल के छात्राओं ने मोर्चा लेकर उमरा थाने पहुंची

वीर नर्मद साउथ गुजरात यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं ने उमरा थाने में पेशकश की है। छात्रों ने बताया कि छात्रावास के आसपास असामाजिक तत्व हमेशा छात्रों को छेड़ते हैं, छात्रों का पीछा करते हैं और गंदे इशारे करते हैं। हाल ही में यह बात सामने आई है कि एक छात्रा को गले पर चाकू रखकर जान से मारने की धमकी दी गई थी। उमरा थाने में बार-बार गुहार लगाने के बाद भी छात्रों को उमरा पुलिस सुरक्षा नहीं दे पा रही है। प्रदर्शन करने वालों छात्राओं के साथ एबीवीपी कार्यकर्ता भी समर्थन में थे।
पुलिस और छात्रों के बीच वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय की झड़प अभी सुलझी नहीं और एक नया विवाद खड़ा हो गया है। यह मामला विश्वविद्यालय के छात्रावास में रहने वाले छात्राओं द्वारा छात्रावास के आसपास छात्राओं को परेशान करने का मुद्दा सामने आया है।  यूनिवर्सिटी रोड पर कुछ असामाजिक तत्वों जैसे छात्र लगातार अशोभनीय वर्तन कर रहे हैं। सूरत शहर में इस तरह के इस तरह की हो रही घटनाओं से शिक्षा जगत में हलचल मच गई है। इस मामले में छात्रों द्वारा उमरा पुलिस को जानकारी दे दी गई है, लेकिन छात्राओं को ऐसे  असामाजिक तत्वों से क्यों सुरक्षा नहीं दिया जा रहा है।
वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय के आसपास के क्षेत्र को लेकर एक बार फिर कई सवाल उठाए जा रहे हैं।  विश्वविद्यालय के छात्रा अपने घर से पढ़ने के लिए परिवार से दूर रहती हैं और अक्सर छात्रावास के बाहर सुबह या दोपहर या देर शाम को भी शिक्षा या किसी अन्य काम के लिए आती-जाती हैं। अकेलेपन में ऐसे समय असामाजिक तत्व उन्हें छेड़ते हैं। पुलिस आयुक्त को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए। छात्रों के सामने आने पर पुलिस का कड़ा बंदोबस्त तैनात कर दिया गया है।  
 छात्रावास में रहने वाली एक छात्रा ने कहा कि छात्रा विश्वविद्यालय के आसपास के क्षेत्र में सुरक्षित महसूस नहीं कर रही है। समय-समय पर छात्रों के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं के साथ-साथ अन्य घटनाएं भी होती रहती हैं,जिससे भय का माहौल बना हुआ है। हालांकि मामले की जानकारी उमरा पुलिस को दी गई, लेकिन उन्होंने कोई उचित कार्रवाई नहीं की। एक छात्रा  गुजर रही थी तो  दो या तीन लुक्खा तत्वों ने गेल पर चाकू रख धमकी दी थी। हम एक बार फिर इस मामले की जानकारी पुलिस अधिकारियों को देने उमरा थाने आए हैं और मांग करते हैं कि हमें उचित सुरक्षा दी जाए। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें