सीए फाईनल रिजल्ट में सूरत के शुभम अग्रवाल का 13वां रेन्क

सीए रवि छावछरीयी तेजस्वी छात्रों को अभिनंदन देते हुए

आईसीएआई रिजल्ट-2021 फाइनल और फाउंडेशन चार्टर्ड एकाउंटेंट परीक्षाओं के नतीजे घोषित हुए जिसमें सूरत के छात्र शुभम अग्रवाल ने समग्र देश में १३वां रेन्क प्राप्त किया

आईसीएआई रिजल्ट-2021 फाइनल और फाउंडेशन चार्टर्ड एकाउंटेंट परीक्षाओं के नतीजे
सीए फाईनल और सीए फाउन्डेशन की राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा जुन-जुलाई 2021 में हुई थी जिसका आज रिजल्ट घोषित हुआ है। सीए फाईनल में सूरत के छात्र शुभम अग्रवाल ने राष्ट्रीय स्तर पर 13वां रेन्क प्राप्त करके शहर का नाम रोशन किया। वही शशांक तंबोली 19 वर्ष की उम्र में ही सीए फाईनल कंप्लीट करने में सफल हुए। 
द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया’ (आईसीएआई) द्वारा सीए फाइनल  और फाउंडेशन कोर्स के नतीजों की घोषणा आज, 13 सितंबर 2021 को कर दी गयी है। सीए फाईनल  ग्रुप वन का 20.23 प्रतिशत,  ग्रुप टु का 17.36 प्रतिशत और दोनों ग्रुप का 11.96 प्रतिशत परिणाम घोषित हुआ। सूरत से सीए रवि छावछरीया ने परीणाम के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि छात्र शुभम अग्रवाल ने 800 में से 577 अंक प्राप्त करके समग्र देश में टोप 50 में से 13वां रेन्क प्राप्त करके शहर का नाम रोशन किया। शुभम कक्षा 12 सीबीएसई बोर्ड में 92 प्रतिशत अंक से उत्तीर्ण हुआ था। सीए सीपीटी और इंटर में शुभम ने कोई रेन्क प्राप्त नही किया था मगर काफी महेनत से उसने सीए फाईनल की तैयारी की थी जिसमें वह नेशनल रेन्क प्राप्त करने में सफल रहा। भव्या जैन ने 506, वंशिका खुराना 496, आयुष जोगाणी 485, एैश्वर्या सराफ 483, सोनम अग्रवाल 482, प्रांजल बोरडीया 482, शशांक तंबोली 480, चिंतन पटेल 478 और पियुष राखेचा ने 461 अंक के साथ सीए फाईनल पास किया। 
सीए फाउन्डेशन में मोहित मेवावाला ने 316, सारथी चावला ने 306, रीषी अग्रवाल ने 301, वरूण चांडक ने 300, मान सिंघल ने 298, चिराग कारणानी ने 298, आर्यण दोषी ने 293, अभय लालवाला ने 293, विनय लालवाला ने 291 और विशाल वैष्णव ने 288 अंक प्राप्त किए। 
सीए रवि छावछरीया के साथ शशांक तंबोली
सबसे कम 19 वर्ष की उम्र में शशांक तंबोली सीए बने 
शशांक तंबोली ने 800 में से 480 अंक प्राप्त करके प्रथम प्रयास में ही सीए फाईनल कंप्लीट करके सबसे कम उम्र में सीए बनने की जानकारी मिली है। मात्र 19 वर्ष की आयु में राजस्थान भीलवाडा के शशांक सूरत में सीए रवि छावछरीया की संस्था से कोचिंग लिया था। आर्थिक रुप से कमजोर मगर पढाई में तेजस्वी छात्रों के लिए सीए रवि छावछरीया सीएसआर के तहत  सीए स्टार प्रोजेक्ट चला रहे है। शशांक के पिता भीलवाडा में रिक्षा चलाते है। शशांक के चार साल तक सूरत में रहने खाने और पढाई का पुरा खर्च सीए रवि छावछरीया ने उठाया था। कोरोना एसओपी के कारण शशांक अभी भिलवाडा में है। इसी के साथ सीए स्टार प्रोजेक्ट के अंतर्गत हेलीत राणा ने 404 और ध्रुव राणा ने 415 अंक प्राप्त करके सीए फाईनल पास हुए। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें