सूरत : व्यापारी को लूटने वाला रिक्शा गिरोह पकड़ाया

(Photo: IANS)

तीन लूटेरों के खिलाफ मामला दर्ज

शहर में क्राइम दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। आए दिन दिनदहाड़े लूट की घटनाएं सामने आ रही है। ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है। परवत पाटिया के व्यापारी दोस्त के साथ पैदल कडोदरा हाइवे स्थित माजीसा धाम मंदिर में मन्नत पूरी करने जा रहे थे। तभी गत शाम देवध चेक पोस्ट निकट जान से मारने की धमकी देकर रूद्राक्ष की सोने की माला और आईफोन लूटकर तीन लूटेरे रिक्शा में भागे थे। लेकिन व्यापारी और उनके दोस्त ने शोर मचाने पर निकट की चेक पोस्ट पर हाजिर पुलिस और लोग दौडक़र आए और लूटेरों को पकड़ लिया। लूटेरों के पास से मुद्दामाल जब्त किया।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक मूल राजस्थान के निवासी और सूरत में परवत पाटिया व्रजभूमि सोसायटी 2/604 निवासी 30 वर्षीय निर्मल ओमप्रकाश रिंगरोड मिलेनियम मार्केट में कपड़े का कारोबार करते है। निर्मल ने गत शाम कडोदरा हाइवे स्थित माजीसा धाम मंदिर में मन्नत पूरी करने के लिए दोस्त दिनेश सोनी के साथ पैदल जा रहा था। तब छह बजे देवध चेकपोस्ट से कुछ आगे नियोल गांव की ओर जाने वाले रास्ते पर रिक्शा उनके पास आयी और रिक्शा में सवार दो जन निचे उतरते ही एक ने निर्मल के गले से सोने की माला निकालकर कहा कि आपके पास का कीमती सामान हमें दे दो नहीं तो यहीं पर मार देंगे। दूसरे ने उनके जेब से आईफोन निकाल लिया और लूटेरे रिक्शा सवार होकर भाग गए। 
 हालांकि, निर्मल और उनके दोस्त ने शोर मचाने पर निकट के चेक पोस्ट पर हाजिर पुलिस और लोग दौडक़र आए और लूटकर भाग रहे रिक्शा चालक राजू उर्फ चोटलो महेश पंडया (निवासी कृष्णनगर सोसायटी पूणागाम, सूरत), अल्पेश चीमन सोलंकी ( निवासी सांईनगर पूणागाम, सूरत) और किशनकुमार राजुकुमार मंडल (उम्र 28, निवासी नेतलदे पार्क सोसायटी पूणागाम, सूरत) पकड़ा। उनके पास से रूद्राक्ष की सोने की माला और आईफोन जब्त किया। तीनों के खिलाफ पुलिस मामला दर्ज कर आगे की जांच कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें