सूरतः प.बंगाल की घटना को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश, धरना-प्रदर्शन कर जताया विरोध

विरोध जताते भाजपा कार्यकर्ता

अमित राजपूत समेत अनेकों कार्यकर्ता मौजूद रहे

 पश्चिम बंगाल में भाजप कार्यकर्ताओं पर हमले के विरोध में सूरत में गुरुवार को भाजपा नेताओं में आक्रोश व्याप्त है। कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध-प्रदर्शन कर विरोध जताया गया।  
पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने सत्ता संभालने के बाद ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले होने पर बुधवार को भाजपा ने देश व्यापी धरना-प्रदर्शन का आयोजन किा था। जिसके भाग रुप राज्य में इस घटना के विरोध में धरना प्रदर्शन किया गया था। इसके बाद सूरत में गुरुवार को ममता बनर्जी के विरोध में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। सूरत में कोराना के केस लगातार बढ रहे है। भाजपा प्रदेश प्रमुख द्वारा कोविड नियमों के पालन के साथ धरना प्रदर्शन करने की अपील की गई थी। परंतु सूरत के स्थानिय नेता अमित राजपूत समेत कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन के समय सोशल डिस्टन्स का उल्लंघन किया। भाजपा नेताओं ने प्रदेश प्रमुख सीआर पाटील की अपील को भी न मानते हुए कोविड नियमों का उल्लंघन किया। कार्यकर्ताओं ने इकठ्ठा होकर विरोध जताया। साथ ही फोटोसेशन के चक्कर में कई नेताओं ने मास्क पहनना भी मुनासिब नहीं समझा। मास्क न पहनने और सोशल डिस्टन्स का पालन नहीं करनेवाले गरीब व व्यापारियों से जुर्माना वसूलने वाली मनपा भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ कोई कदम उठाएगी या नहीं इसको लेकर लोगों में चर्चा चल रही है। कई लोगों का आरोप है कि कोरोना महामारी के बीच भाजपा द्वारा रैली समेत कई कार्यक्रमों में भीड इकठ्ठा कर कोविड नियमों का उल्लंघन कर रहे होते हैं। इतना ही नहीं कोविड आइसोलेशन सेन्टर के उद्घाटन में भी भाजपा नेता फोटोसेशन कराने के लिए भीड इकठ्ठी करते है। इन नेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने की लोगों में मांग उठ रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें