सूरत : दूध वितरण को लेकर मालधारी समाज का विरोध, तापी नदी में बहाया 300 लीटर दूध

सूरत में तापी नदी में दुध बहाते मालधारी समाज के लोग

सूरत में तापी नदी का दूध से अभिषेक करते मालधारी ,मालधारी ने घोषणा की है कि वे आज दूध नहीं बेचेंगे

सूरत के अडाजान में सुरभि डेयरी में मालधारी समाज की भीड़ द्वारा की गई तोडफ़ोड़ सीसीटीवी में कैद, दूध धारकों ने विरोध में गर्म नदी में गिराया दूध मालधारी की ही डेयरी ने तोडफ़ोड़ की वजह से अफरातफरी का माहौल बना दिया।

दूध-हड़ताल के आह्वान पर मालधारी समाज का आक्रोष


सरकार के सामने अपनी मांगों को रखने और उन्हें पूरा करने के लिए जमींदारों द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा है। कल से ही मालधारी समाज की ओर से कोशिश की जा रही थी कि दूध लोगों तक न पहुंचे. आज दूध की बिक्री पर सख्ती से रोक लगा दी गई और दूध को गर्म नदी में डाल दिया गया। सूरत में सुबह से ही दूध की किल्लत शुरू हो गई है। स्टोर स्टॉक से बाहर हैं। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसी बीच अदजान में सुरभि डेयरी में तोडफ़ोड़ की घटना सामने आई,  लोगों की भारी भीड़ पहुंच गई और तोडफ़ोड़ की गई। 

शहर के कुछ क्षेत्रों में रही दुध कि किल्लत


मालधारी समाज के दुग्ध-हड़ताल की घोषणा को लेकर लगातार हंगामा हो रहा है। अडाजन इलाके में स्थित सुरभि डेयरी में कुछ लोगों ने घुसकर तोडफ़ोड़ की। मालधारी की ही डेयरी में तोडफ़ोड़ शुरू होने पर अफरातफरी का माहौल देखने को मिला। पता चल रहा है कि घटना को भीड़ ने अंजाम दिया है। कल भी कुछ जगहों पर सुमुल डेरी द्वारा भेजे गए टेम्पो रोककर के  दूध लौटाने के लिए धमकाया गया था।

मालधारी ने हजारों लीटर दूध से तापी नदी का अभिषेक किया


सुबह-सुबह मालधारी समाज ने डभोली जहांगीरपुरा क्षेत्र के पुल पर चढ़कर मालधारी समाज के लोगों द्वारा दूध से तापी नदी का अभिषेक किया। दूध के डिब्बे तापी नदी में फेंके गए। डभोली पुल पर डिब्बे की लाइन लग गई। एक के बाद एक मालधारी समाज के लोग अपनी गाडिय़ां लेकर नदी के पानी में दूध के डिब्बे खाली करते नजर आए। एक के बाद एक मालधारी समाज के लोग अपनी गाडिय़ां लेकर ऐसे दूध के डिब्बे खाली करते नजर आए।

मालधारी समाज द्वारा विभिन्न कार्यक्रम


गुजरात का मालधारी समाज अपनी मांगों को लेकर दृढ़ प्रतीत होता है। आज सूरत में तापी नदी का दूध से अभिषेक कर विरोध जताया। लोगों तक दूध न पहुंचे इसके लिए कल मालधारी समाज ने तैयारी कर ली थी। सुमुल डेरी से शहर के विभिन्न दुध सेन्टरो पर आने वाले टेम्पो को भी रोका गया और वापस भेज दिया गया। आज सुबह सूरत शहर के अधिकांश दूध पार्लरों में ग्राहकों को दूध की आपूर्ति नहीं हुई।

पुलिस बंदोबस्त के साथ सुमुल से डेम्पो डेयरी तक पहुंचे


सूरत के अलग-अलग इलाकों में सुबह से ही दूध की किल्लत शुरू हो गई थी। सुमूल पार्लर के अंदर जहां दूध का स्टॉक था वहां ग्राहकों को थोड़ी राहत मिली, लेकिन अब लगभग सभी दूध पार्लरों को दूध मिलना बंद हो गया है। सुमुल डेयरी ने कहा था कि दूध पार्लर पर दूध उपलब्ध होगा लेकिन मालधारी समुदाय के युवकों को सुमुल के दूध से भरे टेम्पो को दुकानों और दूध डेयरी तक नहीं पहुंचने दिया गया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें