सूरत : कर्मचारी भविष्य निधि सदस्य के अवसान पर क्लेम के 24 घँटे के दौरान परिवार को हुआ भुगतान

भविष्य निधि , इन्शोरन्स और पेन्शन का चेक परिजनों को सुप्रत किया

कर्मचारी निवृत्त होने से पंद्रह बीस दिन पुर्व ही कार्यालय को सूचित करे तो निवृत्ती के साथ ही पेन्शन शुरू हो जायेगी

सूरत में अभी भी 5854 सदस्यों का आधार लिंक और ई-नोमिनेशन नही हुआ हैः क्षेत्रिय आयुक्त
कर्मचारी भविष्य निधि क्षेत्रीय कार्यालय सूरत द्वारा सदस्य जीवन कुमार राउत जिनका हाल ही में आकस्मिक निधन हो गया जो ऑरेंज मेगास्ट्रक्चर संस्थान सूरत में कार्यरत थे। क्षेत्रीय कार्यालय सूरत द्वारा मामले के संज्ञान में आते ही कार्यालय द्वारा उक्त संस्थान से संपर्क कर सदस्य के भविष्य निधि का पैसा उनके आश्रित माता पार्वती राउत एवं पिता हराप्रसाद राउत को भविष्य निधि का लाभ तुरंत ही प्रदान किया गया। क्षेत्रीय कार्यालय सूरत द्वारा लगातार संस्थान तथा सदस्य के आश्रित माता एवं पिता से लगातार संपर्क कर उनके गृह राज्य उड़ीसा भविष्य निधि के नियमानुसार सदस्य का दावा पत्र 20, बीमा लाभ हेतु दावा को कार्यालय में 8 जून 2022 को प्राप्त किया गया एवं दावा का त्वरित निपटान 09 जून 2022 को भविष्य निधि की राशि रुपया 26630/- एवं इन्शोरन्स क्लेम के 3,15,580/- का भुगतान किया गया एवं पेंशन के भुगतान के लिए उनके गृह राज्य उड़ीसा में स्थित क्षेत्रीय कार्यालय को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।  ताकि सदस्य के आश्रित माता पिता को को जल्द से जल्द मासिक पेंशन की राशि प्राप्त हो।
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के क्षेत्रिय आयुक्त अजित कुमार, क्षेत्रिय आयुक्त -1 आनंद मनिष और सहायक आयुक्त अनिल तिवारी ने सदस्य के परिजन को तीनो चेक सौंपे। इस अवसर पर कर्मचारी भविष्य निधि संघठन के अधिकारियों ने कहा कि सभी संस्थान से निवेदन है कि वह अपने यहां कार्यरत सभी कर्मचारियों का ई नॉमिनेशन जल्द से जल्द कराएं ताकि भविष्य में सदस्यों आश्रितों को भविष्य निधि लाभ हेतु किसी परेशानी का सामना ना करना पड़े एवं सदस्य एवं आश्रित कहीं से भी भविष्य निधि का दावा आसानी से ऑनलाइन प्रस्तुत कर सकें।
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की स्थापना 01 नवम्बर 1952 को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने हेतु संगठित क्षेत्र के कर्मचारी के लिए हुआ, इसके अंतर्गत तीन योजना बनायी गयी। प्रथम योजना कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952, द्वितीय कर्मचारी परिवार पेंशन योजना 1971, तृतीय योजना कर्मचारी जमा सहबद्ध योजना 1976 । संगठन के द्वारा कर्मचारी परिवार पेंशन योजना 1971 को संशोधित करते हुए कर्मचारी पेंशन योजना 1995 शुरू किया गया जिसमे पूर्व के कर्मचारी परिवार पेंशनं योजना में कई प्रकार के लाभ को समाहित किया गया एवं व्यापक रूप से सामाजिक सुरक्षा को कवर करते हुए परिवर्तन के साथ- साथ उतरोत्तर विकास की ओर कर्मचारी पेंशन योजना 1995 अग्रसर होते रही। इसी क्रम में “ प्रयास " कार्यक्रम मार्च 2020 से शुरू किया गया।
" प्रयास " के अंतर्गत जिस माह में कर्मचारी सेवा निवृत होते हैं उसी माह के अंतिम तिथि को पेंशन भुगतान आदेश पेंशनर को वितरित करने का उद्देश्य रखा गया। जिसके क्रियान्वयन करने के लिए कार्यालय स्तर पर नियोक्ता एवं कर्मचारी को जागरूक करने के लिए ओनलाईन वेबिनार और संस्थान में जाकर सेमिनार का आयोजन समय समय पर किया जा रहा है। शुरुआती दौर में तो “ प्रयास योजना का लाभ बहुत ही कम लोग उठा पा रहे थे लेकिन वर्तमान समय में कार्यालय के उतरोतर प्रयास से " प्रयास कार्यक्रम "अपनी उचाइयो को छू रही हैं. और अधिक से अधिक कर्मचारी लाभान्वित हो रहे हैं।
सूरत कर्मचारी भविष्य निधि क्षत्रिय कार्यालय के अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा की सूरत , तापी और नवसारी जिले से कुल 4,25,451 सदस्य है जिसमें से अभी तक 5854 सदस्यों ने अपना आधार कार्ड लिंक नही किया है। जल्द से जल्द आधार कार्ड लिंक करा दे और अपना ई नोमीनेशन कराए तांकी भविष्य में सदस्य के परिवार को जल्द से जल्द सरलता से भुगतान किया जा सके। सामान्य रूप से क्लेम आने के एक सप्ताह के बाद ऑफलाईन भुगतान होता है। अगस सदस्य ने ई नोमिनेशन किया हो तो तुरंत ही 24 घंटो के भीतर सरलता से क्लेम का भुगतान संभव होता है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें