सूरत महानगरपालिका की नई स्क्रीम, कोरोना का दूसरा टीका लगाने वालों को देंगी 1 लिटर खाद्य तेल

6.52 लाख व्यक्तियों का दूसरा टीका बाकी

देश में कोरोना संक्रमण घट चुका है, लेकिन कोरोना टीका से कोई भी व्यक्ति वंचित नहीं रहे इसलिए मनपा प्रशासन हरसंभव प्रयास कर रहा है। इसके लिए तरह-तरह के हाथकंड़े अजमाए जा रहे है। ज्यादातर लोगों ने कोरोना के दोनों टीके लगा लिए है। सूरत महानगरपालिका की ओर से पिछले 10 महिने से शुरू वैक्सीनेशन की कार्यवाही के तहत पहला और दूसरा टीका के बीच 40 प्रतिशत का अंतर दर्ज हुआ है। पहले टीके की बात करें तो अभी तक 109.3 प्रतिशत लोगों ने पहला टीका लगया है। वहीं दूसरा टीका लगाने वाले 69.92 प्रतिशत है। 40 प्रतिशत लोग ऐसे है जिन्होंने अभी तक दूसर टीका नहीं लगवाया। लोगों को प्रोत्साहित करने दूसरा टीका लगवाने वालों को युवा अनस्टोपेबल संस्था के सहयोग से पालिका 1 लिटर खाद्य तेल देंगी।
भारत में 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन का टार्गेट को हांसिल करने में सूरत आगे रहा है। सूरत महानगरपालिका के स्वास्थ्य तंत्र ने 37,42,623 लोगों को प्रथम टीका और 24,00,268 व्यक्तियों को दूसरा टीका लगाया जा चुका है। कुल 61,42,891 टीके लगाए जा चुके है। लेकिन अभी ऐसे कई लोग है जिन्होंने पहला टीका लगाने के 84 दिन बाद भी दूसरा टीका नहीं लगवाया। जिनकी संख्या 6.52 लाख है। 
मनपा के काफी प्रयासों के बावजूद दूसरा टीका लगाने के लिए लोग आगे नहीं आ रहे है। ऐसे व्यक्तियों का टीकाकरण करने के लिए और उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए दूसरा टीका लगवाने वाले व्यक्ति को मनपा ने 1 लिटर खाद्य तेल देने की घोषणा की है। युवा अनस्टोपेबल संस्था के सहयोग से सूरत महानगरपालिका दूसरा टीका लगवाने वाले व्यक्तियों को एक लिटर खाद्य तेल का पाउच का वितरण करने जा रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें