सूरत : कामरेज चार रास्ता का होगा कायापलट, आसपास के दीवालों पर होगा रंगरोगन

मुंबई अहमदाबाद हाई-वे पर स्थित ये जंक्शन अहमदाबाद और सौराष्ट्र जाने वाले लोगों की बड़ी संख्या के कारण बहुत अधिक व्यस्त रहता है

सूरत के तीन प्रवेश द्वारों में सबसे व्यस्त कामरेज जंक्शन को ढाई करोड़ रुपये की लागत से सजाया जाएगा। इसके लिए सूडा ने 2.5 करोड़ रुपये के अनुमान को मंजूरी दी है। साथ ही आरएनबी ने भी सौंदर्यीकरण को हरी झंडी दे दी है। इस बीच कामराज चार रास्ता पर ट्रैफिक आइलैंड, आसपास की दीवारों पर पेंटिंग और पुल के नीचे पुलिस चौकी जल्द ही स्थापित की जाएगी। साथ ही फोर लेन पर खड़े रिक्शाचालकों, बस व ट्रैक चालकों के लिए फोर लेन के पास पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी, ताकि शहर के प्रवेश द्वार पर कोई दबाव या वाहनों का ट्रैफिक न दिखे और सड़क हमेशा खुली रहे।
आपको बता दें कि सूरत शहर के तीन मुख्य प्रवेश द्वार कामरेज, कडोदरा और पलसाना हैं। इन तीन प्रवेश द्वारों में कामराज और कडोदरा सबसे व्यस्त हैं। मुंबई अहमदाबाद हाई-वे पर स्थित ये जंक्शन अहमदाबाद और सौराष्ट्र जाने वाले लोगों की बड़ी संख्या के कारण बहुत अधिक व्यस्त रहता है।  साथ ही कामरेज फोरलेन सर्विस रोड पर लारियों और दुकानों का दबाव है। जबकि रिक्शा चालक आधी सड़क पर आकर अपना कारोबार करते  हैं। ऐसे में कलेक्टर ने शहर के व्यस्ततम प्रवेश द्वार को खोलकर यातायात और दबाव के भार को कम करने के लिए सख्त काम शुरू कर दिया है। 
आपको बता दें कि बुधवार को सुडा ने पुलिस की मदद से कामराज चार रास्ता पर मौजूद लारीगल्ला औरआसपास की दुकानों को तोड़ने का काम किया। देर शाम तक 50 से ऐसे परेशानी पैदा करने वाले कारकों को हटाया गया। हालांकि शाम को हुई भारी बारिश के कारण तोड़फोड़ का काम रोकना पड़ा। हालांकि कामरेज फोर लेन पर इस काम से ट्रैफिक की समस्या और बढ़ गई। बता दें कि कामरेज  चार रास्ता पर मौजूद सड़कों के आसपास के दुकानदारों, लीफ केबिन होल्डर, लॉरी सभी को परिसर खाली करने का अग्रिम नोटिस भेजा गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें