सूरत : मायके से दहेज के 10 लाख ना लाने पर ससुर ने पिलाई बहू को चूहे मारने की दवा

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

नया बिजनेस शुरू करने के लिए की मायके से 10 लाख रुपए मँगवाए, घर के काम को लेकर भी मारते थे ताना

विरार में रहनेवाली राजस्थानी 18 वर्षीय लड़की की शादी सूरत के पूणा क्षेत्र में की गई थी जिससे कि ससुराल वालों ने 10 लाख रुपए की मांग की थी और जबरदस्ती जहरीली दवा पिला दी थी। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना के बारे में पुणा पुलिस ने विवाहिता के ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच पड़ताल शुरू कर दी है। 
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मूल तौर से राजस्थान के निवासी और मुंबई के विरार में रहने वाले विनोद भंवर लाल प्रजापति की 18 साल की बहन शीला की शादी 2020 में सूरत के पुणा गांव मुक्तिधाम सोसायटी के मकान नंबर 456 में रहने वाले और निजी कंपनी में अकाउंटेंट की तौर पर नौकरी करने वाले दिनेश परशुराम प्रजापति से हुई थी। शादी के एक महीने बाद ही पति,सासु,ससुर सभी मिलकर शीला को ताना मारते थे कि उसे काम-धाम करना नहीं आता। नया धंधा शुरू करने के लिए 10 लाख रुपए भी मांगे शारीरिक और मानसिक यातना मिलने के कारण शीला परेशान हो गई थी।
पिछले फरवरी महीने में मायके वाले शीला को घर ले गए थे लेकिन ससुराल वालों ने फिर 15 दिन के बाद उसे बुला लिया। इस दौरान 14 मार्च को शीला ने फोन करके अपने भाई को बताया कि ससुराल वालों ने उसे पीटा है और जबरदस्ती उसके ससुर परशुराम ने चूहा मारने की दवाई पिला दी है। जिससे कि उसका भाई मुंबई से तुरंत ही दौड़े आया और अपनी बहन को उपचार के लिए हॉस्पिटल में दाखिल करवाया था लेकिन शीला कि 17 मार्च को उपचार के दौरान मौत हो गई। शीला के भाई ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें