सूरत : अमरोली में पशुपालकों ने दूध एकत्रित कर घी बनाया, घी से लड्डु बनाकर पशुओं को खिलाऐंगे

अमरोली क्षेत्र के गरीबों को नि:शुल्क दूध बांटा गया

मालधारी समाज ने आज धरना देकर सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया

हाल के दिनों में मालधारी समुदाय विभिन्न मुद्दों पर सरकार के खिलाफ सामने आया है। कल अमरोली, छपराभाठा और वेडरोड क्षेत्र में मालधारी रात में धरना दे रहे थे। जिसमें एक साथ लडऩे का आह्वान किया गया था। आज मालधारी समाज के सदस्योंं द्वारा अपने अस्तबल का दूध नहीं बेचने का निर्णय लिया गया है। वे सभी मालधारी से हजारों लीटर दूध एक जगह इक_ा कर घी बना रहे हैं और पेराई के लिए मशीनें लगा रहे हैं। यह घी की कलछी बनाकर गाय-कुत्तों को खिलाई जाएगी। जबकि अमरोली क्षेत्र में गरीबों को दूध बांटा गया।

दूध मंथन के लिए लगाई मशीन


हजारों लीटर दूध से घी बनाने के पशुपालकों द्वारा मशीनों की व्यवस्था की गई है। दूध मंथन के समय मलाई निकाल कर घी बनाया जा रहा है। इन घी के लड्डू बनाकर गाय-कुत्तों को खिलाकर सरकार के खिलाफ अनोखा विरोध होगा। मालधारी अपनी सभी मांगों पर अड़े हुए नजर आ रहे हैं। 9 बिंदुओं की मांग को लेकर मालधारी सरकार के खिलाफ अपना धरना जारी रखेंगे।

लड़ाई के मूड में है गुजरात के मालधारी


सूरत मालधारी महा पंचायत के सह-संयोजक अश्विन रबारी ने कहा कि सरकार ने केवल एक मुद्दे पर मालधारी के साथ सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। लेकिन मालधारी अन्य 9 बिंदुओं की मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ धरना जारी रखेंगे। भविष्य में गुजरात मालधारी महापंचायत द्वारा तय कार्यक्रमों के अनुसार सूरत की मालधारी सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करेगी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें