सूरत : कपड़ा मार्केट में धोखाधड़ी की घटनाएं रोकने एसआईटी गठन की मांग

फोस्टा ने की गृहमंत्री हर्ष संघवी से एसआईटी गठन की मांग

फोस्टा ने गृहमंत्री हर्ष संघवी से की पेशकश, इससे पहले आर्थिक सुरक्षा प्रकोष्ठ की मांग की थी

टेक्सटाइल मार्केट में पिछले एक दशक से अधिक समय से धोखाधड़ी के कई मामले सामने आ रहे हैं, ऐसे में कपड़ा उद्योग में हमेशा अविश्वास का माहौल पैदा होता है। गबन एवं धोखाधड़ी  रोकने के लिए व्यापारिक संगठन फेडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाइल ट्रेडर्स (फोस्टा) का एक प्रतिनधि मंडल गुरुवार को गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी से मुलाकात कर स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम( एसआईटी) के गठन की मांग की है। प्रतिनिधि मंडल में  फोस्टा के मनोज अग्रवाल, चंपालाल बोथरा, रंगनाथ सारडा, श्रीकृष्ण बंका, पुरुषोत्तम अग्रवाल, दिनेश द्विवेदी, देव किशन मंघाणी, मुकेश डागा आदि का सामवेश था। 
कपड़ा उद्योग में करीब दो सौ से ढाई सौ करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और ठगी के मामले सामने आ रहे हैं। कपड़ा उद्योग में कुछ धोखेबाजों ने अपना गिरोह बना लिया है और लगातार बाजार में घूम रहे हैं और दलालों के संपर्क में रहकर खुद को व्यापारी बता कर बाजार में दुकान किराए पर लेकर सुनियोजित ढंग से ठगी को अंजाम दे रहे हैं। इनकी कार्यप्रणाली ऐसी होती है कि ये पहले व्यापारी के साथ अच्छे से व्यापार करते हैं। कम पैसे में सामान खरीदने के बाद ईमानदारी से भुगतान कर देते हैं। जैसे-जैसे रिश्ता बनता जाता है  वे अधिक रुपये के माल  लेने लगते हैं और जब लेनदेन लाखों रुपये पर पहुंच जाता है, तो वे रफूचक्कर हो जाते हैं।   
फोस्टा के प्रतिनिधि मंडल ने गृहमंत्री हर्ष संघवी से की मुलाकात
फोस्टा के रंगनाथ सारड़ा ने कहा कि कपड़ा उद्योग में धोखाधड़ी करने वाले गिरोहों को पकड़ने के लिए पूर्व में आर्थिक सुरक्षा प्रकोष्ठ के गठन की मांग जा चुकी है। तत्कालीन पुलिस आयुक्त सतीष शर्मा को पेशकश किया गया था, तब पुलिस आयुक्त ने स्टाफ बहुत कम होने की बात कही थी। जिससे कोई समाधान नहीं आया।  इतना ही नहीं तत्कालीन मंत्री नितिन पटेल ने कपड़ा बाजार के लिए अलग थाना बनाने की भी बात कही थी, लेकिन नितिन पटेल अपना वादा पूरा नहीं कर सके। उनके कहने के बाद कपड़ा उद्योग उम्मीद थी, लेकिन वे इस पर खरा नहीं उतर पाए। नतीजतन ये ठग गिरोह सूरत के कपड़ा बाजार में सक्रिय हैं।
फेडरेशन ऑफ टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल ने कहा कि आज सर्किट हाउस में गृह मंत्री हर्ष संघवी से मुलाकात के बाद हमारी  लंबे समय से एक प्रश्न है उसके संदर्भ में विस्तृत पेशकश की। उन्होंने कहा कि कपड़ा बाजार में कम से कम धोखाधड़ी की घटनाएं हो इसके लिए एक विशेष जांच दल की मांग की है।  हर्ष संघवी ने कहा, 'यह मामला मेरे संज्ञान में है। आप सभी गांधीनगर आएं और जितना बन सकेगा उतनी जल्द से जल्दी इसका निराकरण लाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने उम्मीद जताई कि  जल्द ही हमारे सवाल का समाधान हो जाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें