सूरत : मां छोडक़र अन्य व्यक्ति के साथ भागने से बेटी ने लगाई फांसी

की फाइल फोटो।

मां से मिलने की कर रही थी जिद्द

सचिन में मां छोडक़र अन्य व्यक्ति के साथ भागने से बेटी ने फांसी लगा ली। बेटी ने मां को वापस लाने की पिता से जिद्द की थी। पिता ने अन्य मोबाइल में सीमकार्ड डालकर बात करने को कहा तो मन को बुरा लगाकर फांसी लगा ली।
नई सिविल अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सचिन में सांईदर्शन सोसायटी निवासी 13 वर्षीय वंशिका निलेश शर्मा ने बुधवार दोपहर अपने घर के पीछे वाडा में फांसी लगाई हालत में मिली थी। उसके शव को पोस्टमोर्टम के लिए नई सिविल अस्पताल भेज दिया गया। पूरे मामले में पुलिस और परिजनों ने बताया कि मृतक वंशिका कनकपुर में स्थित सेन्ट जोसेफ स्कूल में अंग्रेजी माध्यम में कक्षा 8 में पढ़ती थी। माता वंशिका और उसका पांच वर्षीय भाई को छोडक़र प्रेमी के साथ भाग गई थी। बाद में पिता निलेश ने पत्नी गुमशुदा की शिकायत दर्ज कराई थी। जिससे माता कुछ दिन पहले सचिन पुलिस थाने में बयान दर्ज करवाने सूरत आयी थी। वह 10 दिन घर पर रही थी।, तब अपनी मर्जी से अन्य पुरूष के साथ  रहने की बात स्वीकार की। उसने वंशिका को अपने साथ बात करने के लिए सीमकार्ड दिया था। बाद में लखनौ चली गई। वंशिका ने माता के साथ जाने की जिद्द की थी। मां ने तीन-चार दिन में वापस आने की बात कहीं थी, लेकिन वापस नहीं लौटने पर वंशिका ने स्कूल से आकर माता के साथ मोबाइल पर बात करने की जिद्द की। जिससे पिता ने अन्य मोबाइल में सीमकार्ड डालकर बात करने की बात कहीं, इससे खफा होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
मूल बिहार के पटना जिला निवासी निलेश शर्मा सचिन में टायर का शोरूम चलाता है। परिजनों ने कहा कि वंशिका की मां की मित्रता सोशल मीडिया के जरिये यूपी के लखनौ निवासी अन्य पुरूष के साथ हुई थी। मित्रता प्यार में तब्दील हो गइ। जिससे उसके साथ रहने के लिए पति और संतानों को छोडक़र चली गइ थी। सचिन पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें