सूरत : कर्नाटक व्यापारी के साथ शादी कर पैसे और जेवरात लेकर फरार होने वाली ‘लुटेरी दुल्हन’ साल भर बाद पुलिस की गिरफ्त में

प्रतिकात्मक तस्वीर

कर्नाटक के एक व्यापारी के 1.96 लाख नकद और आभूषण लेकर फरार हुई थी, सूरत के अलावा मुंबई , रापड़, अमरेली समेत कुल पांच लोगों को ठगा, पुलिस इससे पहले उसके गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर चुकी है

वराछा पुलिस ने कर्नाटक के एक व्यवसायी के साथ शादी कर शादी के कुछ घंटे बाद ही 1.96 लाख रुपये नकद और आभूषण लूटकर फरार हुई लुटेरी दुल्हन को वारदात के एक साल बाद रेलवे स्टेशन क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। जाँच में पता चला कि इस लुटेरी दुल्हन ने सूरत के अलावा अमरेली व मुंबई के पांच युवकों को ठगा है। इनमें से सिर्फ सूरत और रापर ने उसके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था।
पुलिस सूत्रों के अनुसार मूल रूप से मुंबई के रहने वाले और अब कर्नाटक के चिकमंगलूर के रहने वाले 38 वर्षीय जुमेर व्यापारी अंकित शांतिलाल जैन ने जून 2021 में बिलिमोरा की स्वाति गणेशभाई भट्ट से 15,000 रुपये की दलाली देकर शादी की थी। शादी के कुछ घंटों के भीतर ही दुल्हन स्वाति उसके भाई को मिले 1.81 लाख रुपये नकद और जेवरात के साथ फरार हो गयी थी। इस मामले में अंकित ने लुटेरी दुल्हन और गिरोह के खिलाफ वराछा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। वराछा पुलिस ने उसी समय दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। जबकि लुटेरा दुल्हन तब से फरार थी।
इस बीच वराछा पुलिस ने सूरत रेलवे स्टेशन क्षेत्र से लुटेरा दुल्हन स्वाति गणेशभाई हिवराले (उम्र-23, निवास- मस्जिद के पीछे, दोलाताबाद किला, ग्राम पंचायत के पीछे, मालीवाड़ा, औरंगाबाद, महाराष्ट्र) को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ के दौरान उसके खिलाफ कच्छ पूर्वी गांधीधाम रापड़ थाने में दो साल पहले एक युवक से शादी करने और 1.80 रुपये नकद लेकर फरार होने की शिकायत दर्ज कराई गई थी। आगे की पूछताछ में उसने कबूल किया कि उसने सूरत, रैपर और अमरेली, मुंबई के कुल पांच युवकों को ठगा था। इनमें से सिर्फ सूरत और रापर ने ही उसके खिलाफ मामला दर्ज कराया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें