सूरत : जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपी ने फिर किया नाबालिग पर अत्याचार

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com)

सावरकुंडला जाने के बाद नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाकर किया दुष्कर्म, पुलिस हिरासत में रहने के बाद 2019 में हुई थी जमानत

पिछले कई समय से शहर में दुष्कर्म के कई मामले सामने आ रहे है। एक ऐसा ही मामला सूरत से सामने आया है, जहां कापोद्रा में रहने वाले जितेंद्र उर्फ जीतू ने 16 साल की लड़की पर दुष्कर्म करने के आरोप में हिरासत में लिया था। आरोपी जीतू साल 2019 में जमानत पर छूटा था, जिसके बाद वह अपने एक रिश्तेदार के यहाँ सावरकुंडला गई थी, जहां उसने 14 साल की एक लड़की के साथ दुष्कर्म किया था। दुष्कर्म करने के बाद आरोपी ने युवती के फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी थी। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, साल 2014 में आरोपी जितेंद्र जो की कापोद्रा में रहता था। उस समय नजदीक में रहने वाली 16 साल की नाबालिग को प्रेम के जाल में फंसाकर उसे भगा ले गया था। जहां उसने लड़की के साथ संबंध स्थापित कर उसे गर्भवती बना दी थी। किशोरी ने एक बालक को भी जन्म दिया था, जिसके बाद आरोपी ने किशोरी को अपने एक मित्र को सौंप दिया था। जिस केस में किशोरी ने जीतू और उसके दोस्त के साथ कापोद्रा पुलिस स्टेशन में दुष्कर्म का केस दर्ज किया था। जिसके केस में दोनों को हवालात भी हुई थी। जिस सजा में उसे साल 2019 में जमानत मिली थी। 
जमानत मिलने के बाद जब लोकडाउन शुरू हुआ तो वह सावरकुंडला अपने एक रिश्तेदार के यहाँ आया था। जहां उसने एक नाबालिग को फंसा कर उसके हाथ में एक रिंग पहनाते हुये फोटो खींच कर उन दोनों के बीच सगाई होने की धमकी देकर उन दोनों के फोटो वायरल कर देने की धमकी दी थी। फोटो वायरल कर देने की धमकी देकर उसके साथ फिर से दुष्कर्म किया था। इस घटना के बारे में जब उसके परिवार को पता चला तो युवती की माता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसके चलते पुलिस ने कार्यवाही के दौरान एसओजी ने जीतू को सूरत से पकड़ा था। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें