सूरत : उधना रेलवे स्टेशन से नाबालिक को अभयम की टीम ने संबंधी को सोपा

अभयम 181 महिला हेल्पलाइन

सौतेली माता के प्रताडना से त्रस्त होकर नाबालिक बिहास से सूरत नौकरी के लिए आयी थी जिसे रेलवे स्टेशन पर गुमसुम देखकर पुलिस और १८१ अभयम टीम ने काउन्सेलिंग करके सूरत में संबंधि को सौपा।

नाबालिक लडकी बिहार से नौकरी के लिए बिना बातए सूरत आयी थी
उधना रेलवे स्टेशन से एक अज्ञात व्यक्ति ने अभयम 181 महिला हेल्पलाईन टीम को कॉल करके जानकारी देते हुए कहा कि एक नाबालिग यहा पर बैठी है जिसकी पुछताछ करने पर कुछ बोल नही रही। इस लिए उसकी मदद के लिए अभयम की रेस्क्यु टीम तत्काल उमरा पुलिस थाने से रवाना हुई। रेस्क्यु टीम ने स्थल पर पहुंचकर नाबालिक का काउन्से‌लिंग ( समझाया बुझाया) करने पर उसके वतन बिहार में रहनेवाली माता को मोबाईल नंबर प्राप्त करके उनके साथ संपर्क कराया। माता ने सूरत में रहनेवाले परिचित व्यक्ति का पता देने पर अभयम की टीम ने नाबालिक का कब्जा उन्हे सौंपा। 
14 साल की नाबालिक पुजाकुमारी बिहार की निवासी है उससे अभयम की टीम ने प्राप्त की जानकारी के अनुसार वह सौतेली माता के प्रताडना से त्रस्त होकर बुआ के घर पढाई करती थी। वेकेशन के दौरान मामा के घर जाने पर पडोशी से हुई चर्चा के दौरान अगर नौकरी करना चाहती हो तो सूरत में व्यवस्था करने का आश्वासन देकर सूरत में रहनेवाले एक युवक का मोबाईल नंबर दिया था। पूजाकुमारी घर पर किसी को बिना बताए सूरत आ गयी थी। उधना रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद युवक को मोबाईल करने पर वह लेने के लिए आता हु ऐसा कहा था जो एक दिन पुरा हो जाने के बाद भी नही आया। जिससे पूजाकुमारी रेलवे स्टेशन पर ही बैठी थी। पुलिस की पुछताछ में युवक का नंबर प्राप्त करके संपर्क करने का प्रयास करने पर मोबाईल स्वीच ऑफ आ रहा था। जिससे अभयम का संपर्क किया गया। अभयम की टीम ने सबसे पहले उस युवती को सांत्वना दी और उसकी माता से बिहार मोबाईल फोन पर संपर्क कराया। अभयम की टीम ने माता को संपुर्ण जानकारी देने पर उन्होने कहा की मुझे सूरत आने में कम से कम चार पांच दिन लग सकते है इस दौरान सूरत में रहनेवाले एक संबंधि का संपर्क नंबर देकर पूजा को उन्हे सोंपने को कहा। अभयम की टीम पुजाकुमारी को संबंधि के घर ले गयी। रेलवे पुलिस और अभयम की टीम के सहयोग से नाबालिक लडकी को रेलवे स्टेशन से उसके संबंधी के घर तक सुरक्षित पहुचाया गया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें