सूरत : लाजपोर जेल में आया शत-प्रतिशत परिणाम, सभी कैदी पास

डांग जिले में सबसे ज्यादा 95.41 फीसदी जबकि सबसे कम परिणाम वडोदरा जिले में 76.49 फीसदी

कल गुजरात बोर्ड के 12वीं के सामान्य वर्ग का परिणाम घोषित किया गया था। जिसमें कई छात्रों ने अपनी मेहनत के दम पर सफलता हासिल की। वहीं सूरत की लाजपुर जेल के कैदी भी 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए थे। जिसमें जेल से परीक्षा देने वाले सभी कैदी पास हो गए हैं और कैदियों में खुशी का माहौल है। पास होने के बाद, कैदियों ने अध्ययन में मदद करने वाले अधिकारियों को धन्यवाद दिया। इन कैदियों का मार्गदर्शन शिक्षक देवांगभाई टंडेल ने किया था। लाजपुर जेल के शत-प्रतिशत परिणाम से खुशी की लहर दौड़ गई है।
12वीं की बोर्ड परीक्षा में सबसे ज्यादा रिजल्ट डांग जिले में 95.41 फीसदी जबकि वडोदरा जिले में सबसे कम परिणाम 76.49 फीसदी रहा है। केंद्र की बात करें तो सबसे कम परिणाम दभोई केंद्र का 56.43 फीसदी है। वहीं 3 केंद्र ऐसे हैं जो शत-प्रतिशत परिणाम लाते हैं जिनमें सुबीर, छपी, अलारसा शामिल हैं। एक ही स्कूल का रिजल्ट 10 फीसदी से भी कम रहा है। 1064 स्कूलों का शत-प्रतिशत रिजल्ट इस बार छात्राओं का रिजल्ट पुरुष छात्रों के मुकाबले 4.56 फीसदी ज्यादा है। छात्रों का परिणाम 84.67 प्रतिशत रहा जबकि छात्राओं का परिणाम 89.23 प्रतिशत रहा।
गुजरात बोर्ड ने आज 12 सामान्य धाराओं के परिणाम घोषित किए। परिणाम आज सुबह 8 बजे gseb.org वेबसाइट पर घोषित किए गए। इस साल रिजल्ट 86.91 फीसदी रहा है। कक्षा 12 सामान्य स्ट्रीम में कुल 4 लाख 25 हजार छात्र उपस्थित हुए। छात्राओं ने 12वीं की सामान्य स्ट्रीम में बाजी मारी। इस बार कक्षा 12 विज्ञान में 95,361 उम्मीदवार उपस्थित हुए। 196 छात्रों को A1 ग्रेड और 3,306 छात्रों को A2 ग्रेड मिला है। जबकि कक्षा 12वीं विज्ञान गुजराती माध्यम का परिणाम 72.4% रहा। है। राज्य में कक्षा 12 विज्ञान की परीक्षा के लिए कुल 1,08,000 छात्रों ने पंजीकरण कराया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें