सूरत में वैक्सीन लगाने गए लोगों पर पुलिस का लाठीचार्ज

सूरत में वैक्सीन सेन्टर से लोगों को भगाने के लिए किया पुलिसने लाठीचार्ज

सूरत के वेसू में वैक्सीन सेन्टर पर गए लोगों को वैक्सीन तो नही मिली मगर पुलिस के लाठीचार्ज का भोग बने, चोरी छुपी जान पहचानवालों को टीका लगाने पर हुआ था हंगामा।

पिछले दरवाजे से वैक्सीन दिलाने पर लाईन में खडे लोगो का हंगामा
सूरत शहर के वेसू क्षेत्र की प्राथमिक स्कूल मे कोरोना वैक्सीन सेन्टर पर सूबह से लाईन में खडे लोगों ने बीच जान पहचानवालों को पिछले दरवाजे से वैक्सीटन दिलाने पर हंगामा किया। स्थानिय ग्रा‌मिणों के हंगामें के बाद स्थल पर पहुंची पुलिस ने लोगों की भीड को भगाने के लिए लाठीचार्ज कर परिस्थिति को काबु में किया। 
सूरत महानगरपालिका द्वारा वेसू प्राथमिक स्कूल में कोरना टीकाकरण सेन्टर की व्यवस्था की गई है। सूबह से लोग वैक्सीन लगाने के लिए लंबी लाईन में खडे दिखे। वैक्सीन सेन्टर के कर्मचारीओं ने मात्र 80 लोगों को वैक्सीन लगेगी ऐसा कहने पर सूबह से लाईन में लोगों ने आक्रोषित होकर हंगामा मचाना शुरू कर दिया। स्कूल में चल रहे टीकाकरण को लेकर लोगों में आशंका थी की मात्र 80 लोगों को टीका लगेने की जानकारी देने के बावजुद भी अन्य लोगों को पिछले दरवाजे से वैक्सीन दिलाई जा रही है। कोर्पोरेशन के एक व्यक्ति द्वारा बाहर से लोगों को बुलाकर चोरी छुपी से बिना लाईन में खडे पिछले रस्ते से वैक्सीन लगाई जाने के आरोप के साथ लोगोने अपना आक्रोष व्यक्त किया। स्थानिक लोग अधिक संख्या में एकत्रित होक वेक्सीन सेन्टर के अंदर पहुचकर महानगरपालिका के कर्मचारीओं के साथ तु तु मै मै करने लगे। इस दौरान घटना की जानकारी मिलने पर तत्काल खटोदरा पुलिस की टीम वेसू प्राथमिक स्कूल में पहुचकर पुलिस ने लोगों वहा से हटाने का प्रयास किया।  वैक्सीन सेन्टर में लोगों और महानगरपालिका के कर्मचारीओं के बिच घर्षण रोकने के लिए लोगों को भगाने लाठीचार्ज का सहारा लिया। तीन चार लोगों पर लाठीचार्ज करने के बाद परिस्थिति सामान्य हुई। स्थानिय लोगों ने ऐसा भी आरोप लगाया की इस सेन्टर में वैक्सीन लगानेवाले लोग अपने जान पहचान के एजन्टो को फोन करके रूपये लेकर चोरी छुपी से वैक्सीन लगाते है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें