गुजरात : 1 सप्ताह के अंदर मिलेगा 10 वीं का रिजल्ट, परीक्षा सचिव ने दी जानकारी

प्रतिकात्मक तस्वीर

कोरोना के कारण कक्षा 10 के 8 लाख से भी अधिक बच्चों का किया गया था मास प्रमोशन, 11वीं कक्षा में प्रवेश के लिए हो रही है परेशानी

कोरोना के कारण इस साल कक्षा 10वीं में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थियों को मास प्रमोशन देकर पास कर दिया गया है। इस कारण प्रवेश की समस्या उत्पन्न हुई है। इस दौरान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परीक्षा सचिव दिनेश पटेल ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि 1 सप्ताह के भीतर सरकार की ओर से मास्क प्रमोशन पाए हुए सभी विद्यार्थियों को मार्कशीट पहुंचा दी जाएगी। साथ ही 11वीं कक्षा में प्रवेश का नियम तय किया जाएगा। इस पर अंतिम निर्णय भी अभी  लिया जाना बाकी है। हालांकि इस बारे में शिक्षा मंत्री ही आधिकारिक घोषणा करेंगे। 
कक्षा 10 में सरकार किस आधार पर मार्कशीट बनाएगी। इसे लेकर चल रही है। सरकार की ओर से इसे लेकर एक जानकारो की कमिटि भी बनाई गई है। इस कमिटि की एक मीटिंग हो चुकी है। हालांकि अभी तक यह तय नहीं हो पाए है कि कक्षा दसवीं में जो विद्यार्थी पढ़ाई में होशियार थे उन्हें 11 में प्रवेश के दौरान अन्याय नहीं हो। कक्षा 10 में 837000 नियमित विद्यार्थियों को मास प्रमोशन दिया गया है। अब मार्कशीट किस मापदंड के आधार पर बनाया जाए यह लेकर भी सवाल खड़े हुए हैं। आठवीं और नौंवी के परिणामों को दसवीं के परिणाम के लिए आधार माना जाए या नहीं यह भी सवाल है। सरकार की ओर से बनाई गई कमेटी की दूसरी मीटिंग अभी जून महीने में होगी इसके बाद कमेटी रिपोर्ट बनाएगी। जिसके आधार पर दसवीं के परिणामों के लिए नियम घोषित किए जाएंगे। इसके बाद ही 837000 बच्चों के मार्कशीट बनेगे और स्कूलों में वितरण के लिए भेजे जाएंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें