गुजरातः जामनगर में 1000 बेड का कोविड केयर हॉस्पिटल शुरू करेगी रिलायंस इंडस्ट्रीज

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी

कोविड-19 महामारी की आपदा में रिलायंस परिवार जनता-जनार्दन की सेवा में सरकार के साथ खड़ा हैः मुकेश अंबानी

 गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के अनुरोध पर त्वरित प्रतिक्रिया देते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कंपनी के सामाजिक उत्तरदायित्व के भाग के रूप में जामनगर में 1000 बेड की क्षमता वाला ऑक्सीजन सप्लाई व्यवस्था समेत तमाम सुविधाओं से लैस कोविड केयर हॉस्पिटल बनाने की घोषणा की है। इसके लिए उन्होंने रिलायंस इंडस्ट्रीज के अधिकारियों को निर्देश भी दे दिए हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन  मुकेश अंबानी के साथ बातचीत कर जामनगर में 1000 बेड की क्षमता के साथ ऑक्सीजन व्यवस्था वाला कोविड हॉस्पिटल शुरू करने का अनुरोध किया था। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को भरोसा दिलाया कि गुजरात में कोविड-19 महामारी की आपदा में रिलायंस परिवार जनता-जनार्दन की सेवा में सरकार के साथ खड़ा है। मुकेश अंबानी ने मुख्यमंत्री से यह भी कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज आगामी रविवार तक तो ऑक्सीन की सुविधा युक्त 400 बेड का हॉस्पिटल जामनगर में शुरू भी कर देगी। उसके बाद अतिरिक्त 600 बेड की क्षमता के साथ हॉस्पिटल शुरू करने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर सहित निर्माण कार्यों को हर संभव तेजी से पूरा कर 1000 बेड की संपूर्ण क्षमता वाला हॉस्पिटल एकाध हफ्ते में शुरू करने को रिलायंस इंडस्ट्रीज पूर्ण रूप से प्रयासरत रहेगी। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन से कहा कि इस हॉस्पिटल के लिए आवश्यक मानवबल मुहैया कराने में राज्य सरकार रिलायंस की मदद करेगी। वहीं, इस हॉस्पिटल के लिए अन्य उपकरण, सामग्री और अनुषांगिक सुविधाओं की व्यवस्था रिलायंस इंडस्ट्रीज खुद करेगी। जामनगर में निर्मित होने वाले रिलायंस के हॉस्पिटल के लिए मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के निर्देश और मार्गदर्शन में मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव  एम.के. दास के नेतृत्व में जिला कलक्टर तथा जिला प्रशासन तंत्र समन्वय की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा आगामी रविवार तक 400 बेड की क्षमता वाला और उसके बाद के एकाध हफ्ते में अतिरिक्त 600 बेड के साथ कुल 1000 बेड की पूर्ण क्षमता वाले ऑक्सीजन सुविधा युक्त इस हॉस्पिटल के कार्यरत होने से जामनगर तथा सौराष्ट्र क्षेत्र के देवभूमि द्वारका और पोरबंदर आदि जिलों के नागरिकों के लिए कोरोना संक्रमण के उपचार की सुविधा स्थानीय स्तर पर उपलब्ध होगी।  

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें