गुजरातः कोरोना की दूसरी लहर के बारे में राज्यपाल ने क्या कहा, जानें

गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत

राज्यपाल ने अहमदाबाद सिविल अस्पताल को अर्पण किए 20 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

कोरोनाकाल में ऑक्सीजन मरीजों के लिए अमृत समान हैः राज्यपाल आचार्य देवव्रत
गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत की प्रेरणा से राजभवन गांधीनगर में शुरु हुए सेवा यज्ञ के दूसरे चरण में भारत के डिजिटल फाइनांन्सियल सर्विसिस प्लेटफार्म  पेटीएम फाउंडेशन द्वारा गुजरात को कुल 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स तथा एक ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए मदद की है। जिसके प्रथम भाग रुप गुरुवार को राज्यपाल के हाथों 20 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर स्वास्थ्य विभाग को सौंप दिए। ये कंसंट्रेटर अहमदाबाद के असारवा स्थित सिविल अस्पताल को भेज दिए गए हैं।  
ऑक्सीजन कंसंट्रेटर अर्पण करते हुए राज्यपाल ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में तन-मन से जो कर्मचारी मरीजों की सेवा कर रहे हैं या अन्य किसी प्रकार से अपना कत्तर्व्य निभा रहे हैं, उनका मनोबल बढ़ाना अत्यंत आवश्यक है। साथ ही उन्हें अहसास हो कि उनकी और उनके परिवार की चिंता करने वाला कोई है।  इसके लिए राजभवन और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से राज्य के एक लाख जितने कोरोना योद्धाओं के लिए जीवनजरूरी वस्तुओं की किट भेजी जा रही है।  अब तक दो खेप में 21 हजार जितनी राशन किट राज्य के 10 जिलों के कोविड वॉरियर्स को पहुंचाई जा चुकी है।  जबकि तीसरी खेप भी जल्द ही भेजी जाएगी।  मानवता के इस कार्य में अहमदाबाद की सामाजिक संस्था युवा अनस्टोपेबल से भी सहायता मिल रही है।  राज्यपाल ने कहा कि कोरोना वॉरियर्स की भांति मरीजों के प्रति भी हमारी जिम्मेदारी है।  कोरोनाकाल में ऑक्सीजन मरीजों के लिए अमृत समान है। उन्होंने कहा कि इसके लिए उनके प्रयासों से भारत के डिजिटल फाइनांसियल प्लेटफार्म पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने गुजरात को 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और एक ऑक्सीजन प्लांट लगाने में सहायता देने की तैयारी दर्शाई थी। इसके अंतर्गत गुरुवार को  पहली खेप में 20 कंसंट्रेटर अहमदाबाद के असारवा स्थित सिविल अस्पताल को अर्पण किए गए हैं। 100 कंसंट्रेटर्स में से 25 अहमदाबाद के सिविल अस्पताल, 20 वडोदरा के एसएसजी अस्पताल, 20 सूरत के नई सिविल अस्पताल, 20 राजकोट के पीडीयू अस्पताल को और 15 कंसंट्रेटर गांधीनगर के सिविल अस्पताल को दिए जाएंगे। राज्यपाल ने कहा कि राज्य के कुल एक लाख कोरोना वॉरियर्स को जीवनजरूरी वस्तुओं की किट पहुंचाने का राजभवन द्वारा कोरोना सेवायज्ञ के अंतर्गत निश्चय किया है। उन्होंने कहा कि जरूरत के मुताबिक लगातार अलग अलग जिलों में किट भेजी जाती रहेगी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें