सूरत में कोरोना वैक्सीन के नियमों में बार-बार परिवर्तन से लोगों में रोष

सूरत के सोनी फलिया वैक्सीन सेन्टर पर हुआ हंगामा

सूरत शहर में कोरोना वैक्सीन की कमी और बार बार नियमों में परिवर्तन से लोगों में काफी रोष देखने मिला, सेंकडो लोग लाईन में खडे रहे और टीका लगाए बगैर लोटे।

 सोनी फलिया वैक्सीन सेन्टर पर एक साथ 1700 लोगों को मेसेज आने पर हुआ हंगामा
18 प्लस के बाद 45 प्लस के लोगों को भी अब मेसेज आने के बाद ही वैक्सीन सेन्टर पर आने की सूचना
सूरत शहर में कोरोना वैक्सीन की कम आपूर्ति के कारण महानगरपालिका द्वारा टीकाकरण को लेकर बार बार नियमों में परिवर्तन लाने से लोगों को काफी मुश्किलों का समाना करना पड रहा है। 18 प्लस के बाद अब 45 प्लस वाले लोगों को भी पहले रजिस्ट्रेशन करना और मोबाईल पर मेसेज आने के बाद ही वैक्सीन सेन्टर पर आना होगा। शुक्रवार सोनी फलिया वैक्सीन सेन्टर से एक साथ 1700 लोगों को वैक्सीन के लिए मेसेज आया मगर वैक्सीन का स्टोक कम होने से घंटो तक लाईन में खडे रहने के बावजुद बिना वैक्सीन लगाई लौटे लोगों में काफी रोष देखा गया। 
कोरोना की दुसरी लहर में शहरवासियों ने कोरोना वायरस का भयानक रूप देखने के बाद लोगों में अब स्वैच्छिक रूप से वैक्सीन लगाने की जागरूकता आयी है। अधिक से अधिक लोग वैक्सीन लगाकर अपने आप को कोरोना वायरस से सुरक्षित करना चाहते है। महानगरपालिका द्वारा 18 से 44 वर्ष आयुवाले वर्ग को पहले रजिस्ट्रेशन करने की और मोबाईल पर मेसेज आने के बाद ही वैक्सीन सेन्टर पर टीका लगाने के लिए आने का नियम बनाया है। अब पालिका ने 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों को भी दुसरा डोज लेने के लिए मोबाईल मेसेज आने के बाद ही वैक्सीन सेन्टर पर आने का नया नियम बनाया है।
शहर में कोरोना वैक्सीन की कम आपूर्ति से हररोज वैक्सीन सेन्टर पर स्वास्थ कर्मचारीओं और टीका लगाने के लिए आनेवाले लोगों में कहा सुनी हो रही है। गुरूवार वेसू क्षेत्र में वैक्सीन सेन्टर पर लोगोने हंगामा मचाने पर पुलिस को लाठीचार्ज करना पडा शुक्रवार को सोनी फलिया वैक्सीन सेन्टर से 1700 लोगों को वैक्सीन सेन्टर पर टीकाकरण का मेसेज छोडा गया। इस सेन्टर पर सूबह से ही लोग वैक्सीन लगाने के लिए लाईन में खडे थे। स्वास्थ कर्मचारीओने टीकाकरण शुरू किया तभी उनके पास वैक्सीन का पर्याप्त स्टोक नही था। जितना स्टोक था उतने लोगों को वैक्सीन लगाया गया उसके बाद टीकाकरण बंद करने से लोगों में भारी रोष देखा गया। कडी धुप में घंटो तक लाईन में खडे होने के बावजुद बिना वैक्सीन लगाए लोगों को वापस घर लौटना पडा। महानगरपालिका के सोफ्टवेर से इन लोगों को मोबाईल पर मेसेज दिया गया था ‌इससे लोगों और आक्रो‌षित हुए थे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें