जिला काग्रेस ने गरीब आदिवासी लोगों को स्वास्थ सुविधा के लिए कलेक्टर को दिया ज्ञापन

सूरत जिला कांग्रेस समिति ने जिला कलेक्टर धवल पटेल को ज्ञापन दिया

सूरत जिला कांग्रेस ने कलेक्टर को ज्ञापन देकर गरीब आदिवासी ग्रामीणों के लिए स्वास्थ सुविधा तथा युवाओं के लिए जल्द वैक्सीन सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की गई।

18 प्लस युवाओं के लिए वैक्सीन तत्काल शुरू करे और देश के भविष्य को कोरना से बचाएः कांग्रेस
सूरत जिला कांग्रेस समिति ने जिला कलेक्टर धवल पटेल को ज्ञापन देकर कोविड महामारी के दौरान सरकारी और निजि अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड, ऑक्सिजन, रेमडेसिविर ‌इंजेक्शन , दवाईयां की सुविधा युध्दस्तर पर आपूर्ति करने की पेशकश की गई। इसी के साथ केन्द्र सरकारी की गाईडलाईन के अनुसार 18 से 44 वर्ष की आयुवाले युवाओं के जिले ग्रामीण क्षेत्र में वैक्सीन सेन्टर पर जल्द से जल्द वैक्सीन आपूर्ति करे तांकी देश के भविष्य का रक्षण हो सके। 
सूरत जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष तथा मांडवी से विधायक आनंदभाई चौधरी, भारत सरकार के पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ.तुषारभाई चौधरी, सूरत जिला पंचायत के पूर्व विपक्षी नेता एवं किसान अग्रणी दर्शनभाई नायक, जिला कांग्रेस प्रवक्ता मनहरभाई पटेल तथा मांडवी तालुका कांग्रेस समति के अध्यक्ष भिमसिंगभाई चौधर सहित जिला कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल जिले में स्वास्थ सुविधा बढ़ृाने और वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए सूरत कलेक्टर डॉ.धवल पटेल से मिला। 
सूरत जिले के 9 तहसिलों के गांवों में कोरोना टीकाकरन की कार्यवाही जल्द से जल्द तेज बनाने के लिए, 18 साल से अधिक उम्र वाले युवाओं को वैक्सीलन देकर कोरोना महामारी से बचाने के लिए तथा जिले में कोरोना मरीजों के  लिए बेड, ऑक्सिजन, वेन्टिलेटर, रेमडेसिविर इंजेक्शन और दवाईयां की व्यवस्था करने के लिए जिला कलेक्टर को तत्काल कार्यवाही करने की मांग की गई। जिले के स्वास्थ विभाग में पिछले कई समय से रिक्त पेरामेडिकल स्टाफ के कर्मचारीओं की तत्काल भरती प्रक्रिया करने की भी मांग की गई। ग्रामिण क्षेत्र के लोगों का कोरोना टेस्ट करने के लिए तालुका स्तर के स्वास्थ केन्द्रो पर आरटी पीसीआर टेस्टिंग किट की आपूर्ति बढ़ाने और 24 घंटे के दौरान आरटीपीसीआर टेस्ट का रिपोर्ट मिल जाए इस प्रकार की व्यवस्था करने की मांग की गई। सूरत और तापी जिले के गरीब आदिवासी मरीजों को कोरोना संक्रमण के दौरान सिविल अस्पताल में ऑक्सिजन की पर्याप्त व्यवस्था न होने से उन्हे ‌अस्पताल में प्रवेशने से भी रोक दिया और चिकित्सा सें वंचित रखा होने की जानकारी से जिला कलेक्टर को अवगत किया। प्रशासन तत्काल ग्रामीण क्षेत्र के गरीब आदिवासी लोगों को स्वास्थ सुविधा की सेवा के लिए जल्द से जल्द उचित कार्यवाही करने की रजुआत कांग्रेस के प्रतिनिधिओं ने कलेक्टर के समक्ष की।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें