अहमदाबाद : रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ गुजरात में ग्रीन एनर्जी तथा अन्य प्रोजेक्ट्स में 5.95 लाख करोड़ रुपए का निवेश करेगी

गुजरात सरकार तथा रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ के बीच एमओयू किया गया

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की उपस्थिति में गांधीनगर में गुजरात सरकार तथा रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ के बीच एमओयू

 रोज़गार के 10 लाख अवसरों का होगा सृजन
रिलायंस इण्डस्ट्रीज लिमिटेड  ने गुजरात को नेट ज़ीरो तथा कार्बन फ़्री बनाने के उद्देश्य से गुजरात सरकार के साथ 5.95 लाख करोड़ रुपए के निवेश के लिए एमओयू किया है। गांधीनगर में मुख्यमंत्री  भूपेंद्र पटेल की उपस्थिति में हुए इस एमओयू पर गुजरात सरकार के अतिरिक्त उद्योग सचिव डॉ. राजीवकुमार गुप्ता तथा रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ की ओर से समूह अध्यक्ष (ग्रुप प्रेसिडेंट) परिमल नथवाणी ने हस्ताक्षर किए। वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट-2022 के अंतर्गत निवेश को प्रोत्साहन देने के रूप में रिलायंस द्वारा यह एमओयू किया गया है।
इस एमओयू के अनुसार रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ ने राज्य में आगामी दशक में 100 गिगावॉट रिन्यूएबल एनर्जी पावर प्लांट तथा ग्रीन हाइड्रोजन इको-सिस्टम के विकास के लिए 5 लाख करोड़ रुपए का ये प्रस्तावित निवेश किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्रभाई मोदी के विज़न के अनुरूप रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ ग्रीन इको-सिस्टम के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ रिन्यूएबल एनर्जी एवं ग्रीन हाइड्रोजन कैप्टिव उपयोग की नई टेक्नोलॉजी तथा इनोवेशन अपनाने में छोटे व मध्यम कद के उद्योगों के सहायक बनने एवं उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के लिए इको-सिस्टम विकसित करेगी। इस प्रस्तावित प्रोजेक्ट के फलस्वरूप राज्य में प्रत्यक्ष व परोक्ष सहित लगभग 10 लाख रोज़गार के अवसरों का सृजन होगा।
इस एमओयू के अलावा रिलायंस इण्डस्ट्रीज़ द्वारा न्यू एनर्जी मैन्युफ़ैक्चरिंग-इंटीग्रेटेड रिन्यूएबल मैन्युफ़ैक्चरिंग के अंतर्गत 60 हज़ार करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा। इस न्यू एनर्जी मैन्युफ़ैक्चरिंग के तहत सोलर पी. वी. मॉड्यूल, इलेक्ट्रॉलाइज़र, एनर्जी स्टोरेज बैटरी, फ़्यूल सेल्स आदि सुविधाएँ स्थापित की जाएँगी। इतना ही नहीं, उन्होंने आगामी वर्षों में रिलायंस जियो नेटवर्क को 5G में अपग्रेड करने के लिए 7500 करोड़ रुपए, आगामी पाँच वर्षों में रिलायंस रिटेल में 3000 करोड़ रुपए और वर्तमान तथा नए प्रोजेक्ट्स में कुल मिला कर 25 हज़ार करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव भी प्रस्तुत किए।
मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने इस अवसर पर अपेक्षा व्यक्त की किप्रस्तावित प्रोजेक्ट्स गुजरात को ग्रीन-क्लीन तथा एन्वायर्नमेंट फ़्रेंड्ली एनर्जी उत्पादन अग्रसर बनाने में महत्वपूर्ण सिद्ध होंगे। इस एमओयू पर हस्ताक्षर के अवसर पर मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव  के. कैलाशनाथन तथा अन्य वरिष्ठ सचिव भी उपस्थित रहे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें