वड़ोदरा : युवा चार्टड एकाउटेंट की कोरोना से मौत, लेकिन मां को नहीं दी गई है सूचना

दिवंगत राकेशभाई नाई (Photo Credit : divysbhaskar.com)

मृतक की मां स्वयं हैं कोरोना संक्रमित और अस्पताल में इलाज चल रहा

कोरोना वायरस के संक्रमण ने कई परिवारों के आधार स्तंभ छीन लिये हैं। कई मामले ऐसे सामने आये हैं जहां एक ही परिवार का एक से अधिक सदस्यों की मौत हो चुकी है। खुशखुशाल परिवार टूट कर बिखर गये हैं। गुजरात के वड़ोदरा से भी एक ऐसे ही समाचार आ रहे हैं, जहां एक 38 वर्षीय युवा और होनहार चार्टड एकाउंटेंट राकेशभाई नाई की कोरोना से मौत हो गई है।
मीडिया रिपोर्टस के अनुसार राकेशभाई की तबियत में काफी सुधार देखा गया था और अस्पताल से उनके मित्र ने उनका अच्छे होने का वीडियो भी बनाकर परिवार, रिश्तेदार और मित्रों के बीच साझा किया था, जिसमें राकेशभाई को यह कहते सुना गया कि वे अब अच्छा महसूस कर रहे हैं और उन्हें पूरी तरह से ठीक होने में चार दिन लगेंगे। लेकिन शायद विधि को कुछ और ही मंजूर था। चार दिनों में ही उनकी मौत की खबर आ गई। 
बता दें कि राकेशभाई अपने पीछे पत्नी, दो बेटियों और मां-बाप को छोड़ गये हैं। उनके माता-पिता और बड़ी बहन वतन रहते हैं और इन तीनों परिवारों का गुजारा राकेशभाई ही चलाते थे। आज इन तीनों परिवारों के आधार समान मजबूत कड़ी टूट चुकी है। 
इस पूरे मामले की सबसे नाजूक बात यह है कि मृतक राकेशभाई की मां को उनके बेटे की मौत की सूचना अभी तक नहीं दी गई है क्योंकि वे स्वयं कोरोना संक्रमित हैं और अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। राकेशभाई के मित्र-वर्तुल में भी उनके जाने के बाद मायूसी छाई हुई है। खैर, यही प्रार्थना की जा सकती है कि कोरोना की भेंट चढ़े राकेशभाई जैसे कइयों के परिवारों को हिम्मत मिले और वे अपना जीवन पटरी पर ला पायें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें