वड़ोदरा: पिता ने ही किया पुत्र का क़त्ल, कारण जानकर हैरान रह जाएंगे आप

(Photo Credit : IANS)

आपस मे हुए मामूली विवाद कर बाद पिता ने पुत्र के गले पर मारी कुल्हाड़ी

वड़ोदरा के वाघोड़िया तालुका के कोतंबी गांव में एक पिता ने अपने बेटे को बेरहमी से मार डाला। नए शहर में खाने को लेकर पिता-पुत्र के बीच हुए विवाद के बाद पिता ने अपने 25 वर्षीय बेटे की कुल्हाड़ी से चाकू मारकर हत्या कर दी। वाघोड़िया पुलिस ने हत्यारे के पिता को गिरफ्तार कर इस संबंध में कार्रवाई शुरू कर दी है।
इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार,मूल पालीताणा और वर्तमान में कैलासबेन कानुभाई परमार परिवार के साथ वाघोड़िया तालुका के कोटांबी गांव के नए शहर में रहती हैं। इनकी एक बेटी और दो बेटे हैं। कैलाशबेन के पति कनुभाई मजदूरी का काम करते हैं। कैलासबेन शुक्रवार रात अपने पति कनुभाई और दो बेटों राजू और 25 वर्षीय राकेश के घर पर मौजूद थीं। रात के खाने से पहले राकेश और कनुभाई का रात के खाने को लेकर झगड़ा हुआ था।  इससे नाराज बेटे राकेश ने पिता कनुभाई के पेट में लात मार दी। जिसके बाद सब कुछ शांत हो गया।
घटना के बाद शांत दिखे पिता कनुभाई ने देर रात अपने सो रहे बेटे राकेश के गले में चार-पांच बार कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी। इसी बीच बगल में पड़ी मां कैलाशबेन जाग गईं और उन्होंने सभी क्रूर दृश्य देखे और उन्होंने गांव के सरपंच को मामले की सूचना दी।
इस घटना की जानकारी सरपंच को मिली तो उन्होंने वाघोड़िया पुलिस को सूचना दी और वे मौके पर पहुंचे। पुलिस ने 25 वर्षीय राकेश के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए जारोड रेफरल अस्पताल भेज दिया है।  साथ ही पुलिस ने हत्यारे के पिता कनुभाई भरतभाई परमार की तलाश कर कुछ ही घंटों में उसे गिरफ्तार कर लिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें