वडोदरा : सरकारी जमीन में फर्जी दस्तावेज बनाकर जमीन हड़पने का प्रयास

प्रतिकात्मक तस्वीर

निगम की बैठक में पूर्व नेता प्रतिपक्ष की पेशकश के बाद महापौर ने जांच कराने का आश्वासन दिया

वडोदरा शहर वाघोड़िया रोड पर स्थित डीमार्ट के पीछे सरकारी जमीन पर निर्माण कार्य शुरु की गई थी, जिसकी जांच में पता चला रजा चिट्ठी सहित दस्तावेज फर्जी थे। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने बैठक में ब्योरा पेश कर बिल्डर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है। बैठक में पूर्व विपक्ष के नेता ने साक्ष्य प्रस्तुत किया कि सर्वे 541 टीपी 3 फाइनल प्लॉट 873  879 के साथ सरकारी रिजर्वेशन की यह जगह बचू रायजीभाई राठौर के नाम पर होने की बात सामने आई है।  जहां निर्माण कार्य होने से भविष्य में लाभार्थियों को बड़ा नुकसान होगा। यह सरकारी जमीन हड़पने की साजिश है।
कलेक्टर और निगम के झूठे हस्ताक्षर वाला एक रजा चिट्ठी सहित साक्ष्य  मिले है।  कार्पोरेशन की बैठक में सबूत पेश कर अवैध दस्तावेज बनाने वाले के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की मांग की गई है। इस मामले को महापौर केयूरभाई रोकाडिया द्वारा कलेक्टर पर टालने से  नेता प्रतिपक्ष और पूर्व 
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भूनिर्माण और फर्जी दस्तावेज जुटाना अलग-अलग अपराध है।  निगम को जांच कराकर भ्रष्ट अधिकारियों व भू-माफियाओं के खिलाफ उदाहरण पेश करने के लिए कानूनी कार्रवाई की जाए। अंत में मेयर ने कहा, ''हमें सबूत दीजिए और हम जांच कराकर काम रोकवा कर जरुरी कार्रवाई करेंगे।''

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें