बैंकों को चुना लगाने वाले नीरव मोदी और विजय माल्या की संपत्ति बेचकर सरकार ने जुटाए इतने पैसे

(Photo Credit : zeenews.india.com)

वित्त मंत्री ने लोकसभा में दी जानकारी

कारोबार के नाम पर बैंकों से कर्ज लेकर विदेश भाग गए हीरा कारोबारी नीरव मोदी और किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक विजय माल्या पर सरकार धीरे धीरे शिकंजा कस रही है। केंद्र द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सरकार द्वारा विजय माल्या और नीरव मोदी की संपत्ति बेचकर 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली की गई है। दोनों अधिकारी देश के कई बैंकों से हजारों करोड़ रुपये का घोटाला कर विदेश में रह रहे हैं।
वित्त मंत्री निर्मला सीताराम ने सोमवार को लोकसभा में बताया कि विजय माल्या और नीरव मोदी की संपत्ति बेचकर 13,109 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं। सीताराम ने कहा, "बैंकों को अब तक दो भगोड़े बकाएदारों की संपत्ति बेचकर राशि मिली है।" ईडी ने इस साल जुलाई में नीरव मोदी और विजय माल्या की संपत्ति बेचकर हुई वसूली की जानकारी दी थी, लेकिन वित्त मंत्री ने आज संसद को इसकी जानकारी दी।
शराब कारोबारी विजय माल्या की बात करें तो यूनाइटेड ब्रेवरीज के मालिक विजय माल्या ने बैंकों से ₹9000 करोड़ का कर्ज लिया था। बैंकों का आरोप है कि अभी तक कर्ज की राशि और ब्याज का भुगतान नहीं किया गया है। अगर डायमंड एग्जिक्यूटिव नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की बात करें तो उन्होंने पीएनबी समेत अन्य बैंकों से 13,000 करोड़ रुपये से ज्यादा की ठगी की है।
अमेरिका की एक अदालत ने भगोड़े भारतीय हीरा कारोबारी नीरव मोदी की याचिका खारिज कर जोरदार झटका दिया है। बता दें कि नीरव मोदी और उसके दो सहयोगियों ने अदालत में एक याचिका दायर कर उसके खिलाफ घोटाले के आरोपों को खारिज करने की मांग की थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें