कोविड अस्पताल से गायब कोरोना मरीज का शव आठ दिन बाद अस्पताल परिसर से ही मिला

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com)

आठ दिन पहले बाथरूम में जाने का कहकर निकले थे बुजुर्ग, अस्पताल के कम्पाउण्ड की झाड़ी में से मिली लाश

वांसदा के रंगपुर गाँव में आए अस्पताल में कुछ दिन पहले एक कोरोना मरीज गायब हो गया था। जिसके आठ दिन बाद उस मरीज की सड़ी हुई लाश अस्पताल के परिसर में ही मिल आई थी। लाश के मिलने के बाद पुलिस ने अस्पताल पहुँचकर कानूनी कार्यवाही पूर्ण की थी। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, वांसदा तहसील के रंगपुर गाँव के धीरुभाई नानाभाई पटेल ( 65 वर्ष ) की तबीयत खराब होने के चलते उन्हें 8 तारीख को वांसदा के सरकारी कॉटेज अस्पताल लाया गया था। जहां उनका कोरोना रिपोर्ट पॉज़िटिव आया था। इसके अलावा उन्हें सिकलसेल की बीमारी भी थी। जिसके कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कर उनका इलाज शुरू करवाया गया था। इसी दौरान 15 तारीख को वह बाथरूम जाने का कहकर अपने बेड पर से उठे थे। 
काफी समय तक वापिस नहीं आने पर डॉक्टर ने वांसदा पुलिस स्टेशन में इस बात की जानकारी दी। इसके अलावा पुलिस और अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा मरीज के परिवार वालों को भी सूचित किया गया। जिन्होंने उनको काफी ढूंढा, पर अंत में कोई उन्हें ढूंढ नहीं पाया था। जिसके चलते परिवार द्वारा उनकी गुमशुदा होने की शिकायत दर्ज करवाई गई थी। 
इसी बीच एक व्यक्ति को अस्पताल के कम्पाउण्ड में एक झाड़ी में एक लाश नजर आई थी। जिसके चलते वहाँ काफी भीड़ जमा हो गई थी। गुम हुये मरीज के पुत्र और अन्य रिश्तेदार को भी वहाँ बुलाया गया, जहां वह अपने परिजन को पहचान गए। मृतक की पहचान हो जाने के बाद पुलिस ने आगे की कार्यवाही शुरू की थी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें