सूरत : भगवान महावीर कॉलेज में लव जिहाद को लेकर बवाल

महावीर कॉलेज में लव जिहाद का मुद्दा गरमा गया

विहिप ने कहा विधर्मी युवकों द्वारा साजिश रचने पर पीटाई की गई

लव जिहाद को लेकर पिछले लंबे समय से देशभर में लोगों में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। जिस तरह से दिल्ली में एक विधर्मी युवक ने एक लड़की के शरीर को बिना जलाए और उसके अंगों को बाहर फेंके बिना उसके टुकड़े-टुकड़े करने का खेल खेला है। इसके बाद इस मामले को लेकर हिंदुओं में भी गुस्सा देखा जा रहा है। वेसु इलाके में स्थित भगवान महावीर कॉलेज में कुछ छात्रों के सक्रिय होने और हिंदू लड़कियों से संपर्क बढऩे की बात सामने आने के बाद विवाद खड़ा हो गया।

वीएचपी की कार्यवाही


सूरत के प्रसिद्ध भगवान महावीर कॉलेज में बड़ी संख्या में छात्र पढ़ते हैं। कॉलेज के भीतर एक सुनियोजित लव जिहाद की साजिश का संदेह था। हिंदू छात्राओं को विधर्मी युवकों द्वारा निशाना बनाकर उनके साथ प्रेम संबंध बना रहे थे। इस संबंध में विश्व हिंदू परिषद ने एक सर्वे किया और ऐसे युवकों की पहचान करने का काम शुरू किया गया जिससे मारपीट हुई थी।

एक विधर्मी युवक की पीटाई की गई


कॉलेज में हिंदू संगठनों के माध्यम से जो छात्र गैर-धार्मिक थे और जिनका हिंदू लड़कियों से संपर्क बढ़ गया था और उनके साथ संबंध थे। इनकी शिनाख्त की प्रक्रिया गुपचुप तरीके से की जा रही थी। जिसमें देखा गया कि दो तीन विधर्मी युवक यह साजिश रच रहे हैं। वह छात्रों से सोशल मीडिया पर चैटिंग कर दोस्ती करता था और आपस में मोबाइल नंबरों का आदान-प्रदान कर बातचीत कर दोस्ती को और गहरा करने की कोशिश करता था। उनकी पहचान करके कॉलेज में ही छात्र को विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने सरेआम पीटा था।

विधार्थिओं द्वारा षडयंत्र रचा जा रहा था: विहिप


विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश नावडिया ने कहा कि लव जिहाद पूरे देश में और शहर में भी लंबे समय से बढ़ रहा है। विधर्मी युवक  हिंदू लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाते हैं और अंतत: हिंदू लड़कियों को आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया जाता है। सूरत के भगवान महावीर कॉलेज में भी कुछ छात्र सक्रिय हो गए हैं और जानकारी मिल रही है कि वे हिंदू छात्रों से संपर्क कर उन्हें प्रेमजाल में फंसा रहे हैं।

विश्व हिन्दु परिषद की टीम ने काम किया


इस मामले में विश्व हिंदू परिषद की टीम लगी हुई थी। लड़कीयों से इस बात की जांच कर रही थी कि मामले में कोई सच्चाई है या नहीं। जब इस बात के पर्याप्त सबूत मिल गए कि ये विधर्मी हिंदू लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाने की पूरी साजिश रच रहे थे। हमने तब कार्रवाई की है। ताकि काफिर न केवल सूरत शहर में बल्कि देश में भी ऐसी घटनाओं को अंजाम दें जैसा कि उन्होंने दिल्ली में विधर्मी युवक ने हिंदू लड़की के साथ किया है। इसे लेकर लोगों में खासा रोष है। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए विश्व हिंदू परिषद काम कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें