सूरत : मिल मालिकों की कल मीटिंग, जॉबवर्क दाम बढ़ाने को लेकर होगी चर्चा

कोयला, केमिकल डाइज सहित के दामों में बढ़ोत्तरी से परेशान मिल मालिक

गत एक साल में मिल मालिक कोयला, केमिकल डाइज सहित दामों में लगातार वृद्धि की समस्या से परेशान है। दाम वृद्धि व्यापारियों के पास से ली जाए या नहीं इस पर चर्चा करने के लिए बुधवार को एसजीटीपीए ने मीटिंग बुलाई है। जिसमें सभी मुद्दों पर चर्चा कर दाम बढ़ोत्तरी को लेकर फैसला लिया जाएगा।
साउथ गुजरात टेक्सटाइल प्रोसेसर्स एसोसिएशन के प्रमुख जीतेंद्र वखारिया ने बताया कि गत एक माह में प्रिटिंग के दाम में 25 फीसदी, ओकजीलरी में 18 से 25 फीसदी, हाइ ड्रो में 30 फीसदी और कोयला में 30 फीसदी की वृद्धि हुई है। क्योंकि कोयला के दाम पहले आठ हजार थे जो फिलहाल 10500 प्रति टन तक पहुंच गए है। वहीं रो मटेरियल्स के दामों में लगातार वृद्धि के कारण मिल मालिकों को तो भाववृद्धि करने की स्थिति पैदा हुई है। जिसके कारण सभी मुद्दों पर चर्चा करने बुधवार को मीटिंग का आयोजन किया है।
पांडेसरा एसोसिएशन के प्रमुख कमलविजय तुलश्यान ने बताया कि चीन से आयात किए जाने वाले केमिकल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे है। जिससे मिल मालिकों को जॉबवर्क के दामों में बढ़ोत्तरी नहीं किए जाए तो मिल को हमेशा के लिए ताला लगाने पड़ेंगे। इसी कारण चर्चा करने के लिए बैठक बुलाई गई है। गौरतलब है कि कपड़ा उद्योग में जीएसटी, आयात ड्यूटी, कोरोना जैसे मुद्दे पर कपड़ा उद्योग इसमें विशेष कर डाइंग प्रोसेसिंग इकाई पहले से ही मुश्किलों का सामना कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें