सूरत : एक हाथ नहीं होने के बाद भी सहजता से योग करता है ये बच्चा

बचपन में हाथ में फ्रैक्चर के कारण काटना पड़ा था हाथ, फिर भी सारे काम खुद ही करते हैं विष्णु

उधना में रहने वाले 19 वर्षीय विष्णु विनोदभाई राणा दुर्घटना में अपना दाहिना हाथ खो देने के बाद भी सामान्य जीवन जीते है
ये दुनिया साहसी लोगों से भरी हुई है। कुछ लोग थोड़ी सी तकलीफ में परेशान हो जाते है तो कुछ लोग बड़ी बड़ी समस्याओं में भी मुस्कुराते है। उधना में रहने वाले 19 वर्षीय विष्णु विनोदभाई राणा दुसरे किस्म के इन्सान है। एक दुर्घटना में अपना दाहिना हाथ खो देने के बाद भी विष्णु परेशान नहीं हुए और ना ही इस बात से हताश हुए। इसके बजाय, विष्णु ने जीवन में सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया। आज वो एक ही हाथ होते हुए भी सब कुछ खुद करते हैं। इतना ही नहीं विश्व योग दिवस के दिन उन्होंने एक हाथ से योगासन भी किया था। एक तरफ जहाँ लोग दोनों हाथ और पैर दोनों सुरक्षित होने के बावजूद ठीक से योगासन नहीं कर पाते हैं। वहीं  विष्णु राणा को एक हाथ से भी बड़ी आसानी से आसन करते देख लोग हैरान रह गए।
अपने बारे में  विष्णु राणा ने बताया कि जब वे दस वर्ष के थे तो वर्षा के कारण गिर पड़े। इससे उनके हाथ में  फ्रैक्चर आ गया और इसके कारण उनके दाहिने हाथ पर डेढ़ महीने से पट्टी बंधी थी।  हालांकि, एक सामान्य ट्यूमर भी निकला।  डॉक्टर ने कहा कि वह आएगा लेकिन उसके हाथ में सूजन रही और जांच करने पर पता चला कि यह कैंसर का ट्यूमर है।  दो गांठें हटाने के बाद फिर से एक गांठ थी जिसे हटाने के लिए हाथ काटना पड़ा।  विष्णु कहते है ‘मुझे थोड़ी देर के लिए परेशानी हुई लेकिन बाद में मुझे इसकी आदत हो गई और ज्यादातर अपने दम पर काम किया।‘

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें