सूरत : पालिका द्वारा खोदे गए गड्ढे से निकला बिजली का तार श्रमजीवी परिवार के बच्चे को छू गया और...

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

सूरत शहर के वेसु इलाके में सूरत नगर निगम की घोर लापरवाही से 10 साल के बच्चे की मौत हो गई। सूरत नगर निगम द्वारा खोदे गए गड्ढे से निकल रहे बिजली के तार के संपर्क में आने से एक श्रमजीवी परिवार के बच्चे की बिजली का झटका लगने से मौत हो गयी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार वेसु स्थित एसएमसी आवास में रहने वाला 10 वर्षीय बालक रविवार शाम अपने घर के पास खेल रहा था। बच्चा जहां खेल रहा था वहीं पास में एसएमसी ने गड्ढा खोदा था। इस गड्ढे में रहे बिजली के तार से बच्चे को करंट लगा। इसके बाद बच्चे को इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गयाजहां अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने जांच के दौरान बच्चे को मृत घोषित कर दिया। उमरा पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए न्यू सिविल में भेज दिया।
आपको बता दें कि मृतक बच्चा जिस घर में रहता था, उसके मुख्य द्वार के बाहर मनपा द्वारा पानी की लाइन के लिए गड्ढे खोदे गए हैं। ये गड्ढे पिछले पंद्रह दिनों से खोदे गए हैं। इन गड्ढे से कुछ तार निकले हुए है। बच्चा कल शाम पास ही खेल रहा था, तभी उसने बिजली का तार छू लिया और उसे करंट लग गया जिससे बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। अस्पताल ले जाने वाले डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बच्चे के परिवार का आरोप है कि मौत नगर पालिका की लापरवाही के कारण हुई है। उमरा पुलिस मामले में आगे की जांच कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें