सूरत का टेक्सटाईल और डायमंड उधोग आज से दो दिनों तक स्वैच्छिक रुप से बंद रहेगा

सधर्न गुजरात चेम्बर द्वारा दो दिनों के स्वैच्छिक बंध की अपिल की गई

शहर में कोरोना वायरस संक्रमण की चैन रोकने के लिए आज से दो दिनों तक टेक्सटाईल और डायमंड उधोग स्वैच्छिक रूप से समग्र दक्षिण गुजरात बंद रहेगा, इस दौरान व्यापारी और श्रमिक ४८ घंटे तक अपने अपने घर पर ही रहकर संक्रमण रोकने में मददगार साबित होगे।

कोरोना संक्रमण बढ़ने पर शनिवार और रविवार को व्यापार धंधा बंद रखने का निर्णय 
सूरत शहर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की चैन को तोडने के लिए टेक्सटाईल और डायमंड उधोग ने सर्वसम्मति से स्वैच्छिक रूप से शनिवार और रविवार को व्यापार, धंधा बंद रखकर ब्रेक ध चैन अभियान को सहयोग दिया है। शनिवार सूबह से सोमवार सूबह तक लगातार 48 घंटे तक व्यापारीयों ने स्वैच्छिक रूप से अपना कामाकाज बंद रखकर घर पर ही रहने का निर्णय लिया है। टेक्सटाईल और डायमंड क्षेत्र के श्रमिकों और कारीगरो से भी दो दिनों तक अपने घर पर ही रहने की अपिल की गई है। 
फोस्टा ने शुक्रवार को शाम को लेटरपेड के माध्यम से सोश्यल मीडिया में जानकारी देते हुए कहा की शहर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी व्यापारीभाईयों को सूचित किया जाता है की सभी कपड़ा मार्केट 17 अप्रैल 2021 शनिवार और 18 अप्रैल 2021 रविवार को संपुर्ण रूप से बंद रहेगी। कपडा व्यापारी स्वैच्छिक रूप से दुकाने बंद रखकर शहर में फैल रहे कोरोना वायरस की चैन को तोडने में मददरूप बने। यह जानकारी सभी टेक्सटाईल मार्केटों में लाउडस्पीकर पर एनाउन्स करके सभी व्यापारी ए‍वं श्रमिकों तक पहुचायी गई। 
चेम्बर ऑफ कोमर्स के अध्यक्ष दिनेशभाई नावडीया ने जानकारी देते हुए कहा कि शहर में कोरोना संक्रमण के हररोज बढ़ रहे मामलों को देखते हुए सूरत सहित समग्र दक्षिण गुजरात के इंडस्ट्रीयल सोसायटी के प्रमुखों से ऑनलाईन वेबिनार के माध्यम से बैठक आयोजित करके उनसे आगामी दो दिनों तक स्वैच्छिक रूप से अपना काम काज बंद रखने के लिए अपिल की गई थी। चेम्बर द्वारा की गई अपिल को सभी इंडस्ट्रीयल सोसायटी के सदस्यों ने स्वैच्छिक रुप से स्वीकारा है। ब्रेक ध चैन अभियान के तहत दो दिनों तक जनहित में स्वंयभु बंद रखने के सूरत की जनता से अपिल की गई है। 
चेम्बर अध्यक्ष दिनेश नाव‌डिया ने कहा की कोरोना संक्रमण की चैन तोडने के लिए सभी को सावधानऔर सतर्क रहना होगा। मात्र दो दिनों तक धंधा व्यापार बंद रखना नाकाफी है इसी के साथ लोगों को दो दिनों तक घर से अनावश्यक बाहर निकलना नही है घर में ही स्वैच्छिक रूप से अपने आप को लोकडाउन करना जरूरी है। 
चेम्बर के उपाध्यक्ष आशिष गुजराती ने कहा कि कारीगरो की और मालिकों की सूरक्षा को ध्यान में रखते हुए सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए दो दिन स्वैच्छिक बंद की घोषणा की है। इन दो दिनों के दौरान पावरलुम्स, डाईग, टेक्सटाईल उधोग से जुडे श्रमिक कारीगर बिना कारण घर से बाहर न निकले यह भी उतना ही जरूरी है। बंद को स्वैच्छिक रूप से संपुर्ण समर्थन देंगे तभी कोरोना की चैन तुटेगी। 
चेम्बर के मंत्री निखिल मद्रासी ने कहा कि शनिवार सूबह 6 बजे से सोमवार सूबह 6 बजे तक 48 घंटे का समय सूरतवासियों को अपने अपने घर में बिताना जरूरी है। इस प्रकार से स्वंय शिस्त का पालन करने से ही कोरोना का संक्रमण तुटेगा। 
चेम्बर द्वारा आयोजित महत्वपुर्ण मीटींग में साउथ गुजरात टेक्सटाईल प्रोसेसर्स एसोसिएशन (एसजीटीपीए), फेडरेशन ऑफ गुजरात वीवर्स, वेल्फेर एसोसिएशन (फोगवा), फेडरेशन ऑफ सूरत टेक्सटाईल ट्रेडर्स एसोसिएशन (फोस्टा), सूरत मर्कन्टाईल एसोसिएशन, सूरत डायमंड एसोसिएशन, सेल्फ लोकर्स एसोसिऐशन, सूरत हार्डवेर एन्ड बिल्डिंग मटिरियल एसोसिएशन, सघर्न गुजरात मशीन टुल्स हार्डवेर एन्ड वेल्डींग एसोसिएशन, साऊध गुजरात टेक्सटाईल ट्रेडर्स एसोसिएशन, पांडेसरा ‌विवर्स एसोसिएशन, सास्कमा, सूरत आर्यन एन्ड स्टील मर्चन्ट एसोसिएशन, क्रेडाई, मीठाई ड्राईफ्रुट विक्रेता एसोसिएशन, सूरत नमकिन एसोसिएशन, सिरामीक्स एसोसिएशन सहित 150 से अधिक संगठनों ने चेम्बर द्वारा दो दिनों के स्वैच्छिक बंद को समर्थन दिया है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें