सूरत : अनाथ बेटियों की सामूहिक शादी, 4 और 5 दिसंबर को 300 जोड़ो की होंगी शादी

पी पी सवाणी ग्रुप के महेशभाई सवाणी ने सामूहिक शादी की जानकारी दी।

सूरत में पी.पी.सवाणी परिवार पिछले दस सालों से करीबन ३ हजार से अधिक अनाथ बेटियों का कन्यादान किया है, इस बार ४ और ५ दिसंबर को होगी ३०० बेटियों की सामूहिक शादी

हिन्दु, मुस्लिम, इसाई के साथ इस बार सीख समाज की बेटी की होगी शादी, बेटियों को जीवन भर के लिए परिवार की सारी देखभाल की जाती है
सूरत में अनाथ बेटियों की शादी और उसके बाद की पूरी जिम्मेदारी लेनेवाले पी पी सवानी परिवार द्वारा 4 और 5 दिसंबर को चुंदडी महियर के नाम पर सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया गया।  जो सूरत के अब्रामा में होगा जहां हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई धर्म की 300 बेटियों को उनके संस्कारों और रिति रिवाजों एवं रसमों के अनुसार विवाह बंधन में जुडेगी। इस भव्य विवाह समारोह के दौरान कोविड गाईडलाईन का पालन किया जायेगा इस लिए सूबह शाम दो दिनों तक चार चरणों में शादीयों का आयोजन किया है। अनाथ बेटियों का कन्यादान सामाजिक नेताओं के साथ-साथ कोविड-19 में काम करने वालों द्वारा किया जाएगा। कार्यक्रम सुचारू रूप चले इसलिए 31 समितियां बनाई गई हैं ताकि सामूहिक विवाह में कोई समस्या न हो।
इस साल 300 बेटियों में से 103 के पिता या माता या बड़े भाई जैसा कोई आश्रय देनेवाला नहीं है। ऐसी बेटियों का कन्यादान गणमान्य व्यक्तियों द्वारा किया जायेगा।पिता की छत्रछाया खो चुकी 4446 बेटियों के पालक पिता के रूप में अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए  सूरत के पी पी सवानी परिवार अब तक लगभग 3000 बेटियों का कन्या दान किया है। पिछले एक दशक से अधिक समय से यह परिवार इस प्रकार अनाथ बेटीयों की शादी करता आ रहा है। भावनात्मक और करुणामयी समारोह में कई गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ कोविड -19 में सेवारत 52 (बावन) संगठनों के अध्यक्ष - उपाध्यक्ष, डॉक्टर, वकील, सीए और प्रेस मीडिया के प्रतिनिधि शामिल होंगे। 
प्रेस वार्ता में पी. पी सवानी ग्रुप के महेशभाई, रमेशभाई और राजूभाई ने "चुंदडी महियार" के विवाह समारोह के पूरे कार्यक्रम की जानकारी दी। विधवा बहनों की बेटियों की शादी बिना किसी धर्म या जाति के भेदभाव के कर दी जाती है। एक तरफ जहां वैदिक रीति से शादी होगी तो दूसरी तरफ मुस्लिम बेटियों का निकाह पढ़ा जायेगा। इसाई और सीख समुदाय की बेटीयों की भी इस कार्यक्रम में शादी होगी। महेशभाई सवानी ने कहा कि हर साल हम सामूहि विवाह समारोह का आयोजन करते है। पिछले साल कोविड के कारण योजना नहीं बना सके लेकिन इस बार भी पूरी लगन के साथ समारोह को चार भागों में बांटा गया है। ताकि व्यवस्था बनी रहे और सुरक्षा बनी रहे।
सामूहिक विवाह कार्यक्रम के लिए 2 दिसंबर 2021 गुरूवार को सूबह 8 बजे गोपिन रिवर विले पी.पी.सवाणी चैतन्य विद्या संकुल ग्राउन्ड के सामने मोटा वराछा अब्राम में 300 बेटीयों को उनसे पहले इस समूह विवाह कार्यक्रम में शादी हुई बहनो द्वारा एकसाथ मेहंदी लगाई जायेगी। 4 और 5 दिसंबर को शनिवार रविवार सूबह शाम पी.पी.सवाणी चैतन्य विद्यासंकुल ग्राउन्ड शादी का आयोजन किया है। इस कार्यक्रम में किरण जेम्स के वल्लभभाई तथा मावजी भाई लाखानी, लवजीभाई बादशाह, केशुभाई गोटी, मनहरभाई सांसपरा, वसंतभाई गजेरा का कोरोनाकाल में जनसेवा कार्य के लिए ‌विशेष सम्मान किया जायेगा। इस कार्यक्रम में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनिष सिसोदिया तथा गुजरात विधान सभा नेता प्रतिपक्ष परेशभाई धानाणी सहित कई राजनैतिक अग्रणी उपस्थित रहेंगे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें