सूरत : उकाई बांध में पानी की आवक बढ़ी, आउट फ्लो बढ़ने से निचले इलाकों में आ सकती है बाढ़

उकाई बांध के 22 गेटों में से 9 गेट 4 फीट खोलकर पानी छोड़ा गया। (फाइल फोटो)।

उकाई बांध खतरनाक सतह से मात्र 5 फीट की दूर, हाल में 98689 क्यूसेक छोड़ा जा रहा है पानी

बांध में पानी की आवक बढ़कर 28746 क्यूसेक हो गई
उकाई बांध में  बढ़ते जल आवक  ने एक बार फिर प्रशासन के लिए चिंता पैदा कर रही है। बीती रात दो बजे के बाद पानी की आवक कम हो गई। लेकिन एक बार फिर जल आवक बढ़ने से उकाई बांध से और पानी छोड़ने  की संभावना है। जबकि तापी नदी वर्तमान में दोनों किनारों पर बह रही है। अधिक पानी छोड़े जाने से निचले इलाकों के गांवों में पानी छोड़े जाने पर भी बाढ़ आ सकती है।
मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में दक्षिण गुजरात में भारी बारिश की संभावना जताई है। प्रशासन उकाई बांध के रुल लेवल को बनाए रखने की कोशिश कर रहा है। यदि उकाई बांध से 1.5 लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा जाता है, तो इसका असर निचले क्षेत्रों में दिखना शुरू हो जाएगा। मौसम विभाग का अनुमान सच हुआ तो परेशानी बढ़ सकती है। जल आवक में गिरावट के कारण उकाई बांध रुल लेवल को बनाए रखने के लिए गत रोज से लगातार पानी छोड़ रहा है। लेकिन अगर उकाई बांध में पानी का प्रवाह इसी तरह बढ़ता रहा, तो पानी छोड़ने को मजबूर हो सकता है।
सूरत जिला कलेक्टर और तापी जिला कलेक्टर उकाई बांध के बढ़ते जलस्तर पर लगातार नजर रखे हुए हैं। उकाई बांध में पानी की आवक पर प्रशासन की पैनी नजर है। पानी की आवक में वृद्धि प्रशासन के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकती है। तापी नदी में ड्रेजिंग ने इसकी वहन क्षमता में वृद्धि की है लेकिन अतिरिक्त जल प्रवाह तापी नदी के किनारे के गांवों को नुकसान पहुंचा सकता है। आशंका जताई जा रही है कि अगर अगले 48 घंटों में भारी बारिश हुई तो दक्षिण गुजरात की सभी नदियां और अधिक रौद्र रुप से बहने लगेंगी।
अभी मानसून खत्म नहीं हुआ, जिससे आगामी दिनों में बांध की सतह बढ़ सकती है। हालांकि, बांध का रुल लेवल 340 फीट से ऊपर होने के कारण पिछले दिन 50 हजार क्यूसेक तक पानी छोड़ने का निर्णय लिया गया। तब से इसे बढ़ाया गया है। वर्तमान में उकाई बांध की सतह 340.63 फीट दर्ज की गई है। वर्तमान में 28746 क्यूसेक पानी की आवक के मुकाबले 98689 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। जिसमें नहर के माध्यम से 1100 क्यूसेक, हाइड्रो से 22 हजार क्यूसेक और गेट खोलकर 75 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है।
उकाई बांध से बीती शाम से अब तक 98,000 क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा जा चुका है। नतीजतन, सूरत में कोजवे की सतह तेजी से बढ़ रही है। कोजवे  की भयजनक सतह 6 मीटर है। पिछले दो दिनों से कोजवे ओवरफ्लो हो रहा है। वर्तमान में कोजवे की सतह 8.19 मीटर तक पहुंच गई है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें