सूरत : लालगेट इलाके में चल रहे हुक्काबार का हुआ पर्दाफाश, 1 लाख से अधिक का मुद्दामाल हुआ जप्त

(Photo Credit : tv9gujarati.com)

पुलिस कमिश्नर के मार्गदर्शन में पिछले कई समय से विभिन्न हुक्काबारों पर मारा जा रहा है छापा

पिछले कई समय से शहर में युवा वर्ग द्वारा नशीले पदार्थ का काफी अधिक मात्रा में सेवन किया जा रहा है। पाश्चात्य संस्कृति को अपनाने के चक्कर में कई लोग ड्रग्स और अन्य नशों के चक्कर में फंस गए है। सूरत में चल रहे ऐसे ही एक हुक्काबार को सूरत शहर पीसीबी द्वारा पकड़ा गया था। जिसमें से पुलिस को बड़ी मात्रा में हुक्काबार और अलग-अलग फ्लेवर के तमाकू मिले थे। 
पिछले कई समय से सूरत शहर दक्षिण गुजरात में MD ड्रग्स और गाजे का एपी सेंटर बना हुआ है। सूरत में कई समय से ही बड़े-बड़े हुक्का सेंटर चल रहे थे, जिसमें 15 साल से लेकर 22 साल के युवक नशा करने के लिए जाते है। हालांकि पिछले कई समय से सूरत पुलिस द्वारा गैरकानूनी तरीके से चल रहे हुक्काबार पर पीसीबी द्वारा लगातार छापे मारे जा रहे थे। 
पुलिस द्वारा लगातार मारे जा रहे छापों के कारण सभी हुक्काबार संचालक अंडरग्राउंड हो गए थे। हुक्काबार संचालक विभिन्न अपार्टमेंट में हुक्काबार चलाने लगे थे। जैसे ही यह बात सूरत पुलिस कमिश्नर अजय तोमर के ध्यान में आई उन्होंने PCB पीआई सहित की टीम को लालगेट इलाके में आए एक कॉम्प्लेक्स में हुक्का बार चल रहे होने की जानकारी दी थी। 
पीसीबी की टीम ने सूरत के लालगेट इलाके में स्थित नालबंद कॉम्प्लेक्स की तीन दुकानों में चल रही 'पफ इन पीस' नाम के हुक्काबार पर छापा मारा। पीसीबी की टीम ने सभी जगहों पर नाकाबंदी कर दी थी। जिसके चलते हुक्का पीने आए 10 लोगों में से एक भी वहाँ से भाग नहीं पाये थे। पुलिस ने सभी लोगों को हिरासत में लेकर अलग-अलग कंपनी के तमाकू और इलेक्ट्रोनिक स्टव सहित कुल 1 लाख 19 हजार का मुद्दामाल जप्त किया था। बता दे कि पिछले कई समय से सूरत पुलिस कमिश्नर के मार्गदर्शन के तहत पिछले कई समय से विभिन्न हुक्काबार पर छापा मारा जा रहा है। जिससे की युवा वर्ग को नशे की लत से दूर रखा जा सके। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें