सूरतः कोरोना से मरने वाले रत्नकलाकार के परिजनों को जेम एंड ज्वैलरी नेशनल रिलीफ फाउंडेशन आर्थिक मदद देगा

रत्नकलाकार के परिजनों को जेम एंड ज्वैलरी नेशनल रिलीफ फाउंडेशन आर्थिक मदद देगा

फाउंडेशन 15 जून तक सभी जानकारी एकत्रित कर मदद करेगा

कोरोना संक्रमण काल ​​में कई रत्नकलाकरों की मौत हो चुकी है। जेम एंड ज्वैलरी नेशनल रिलीफ फाउंडेशन तब सामने आया है जब इसने उनके आश्रित परिवार को आर्थिक तंगी में डाल दिया है। इसे नेशनल रिलीफ फाउंडेशन फॉर जेम एंड ज्वैलरी द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान करने की योजना है, जो हीरा उद्योग में शामिल है। मरने वाले सभी ज्वैलर्स के नाम आज से सूरत डायमंड ऑफिस में डेथ सर्टिफिकेट आधार कार्ड और पहचान के अन्य प्रमाणों के साथ जमा करने होंगे। रत्नकलाकार के परिवार को 15 जून तक डायमंड एसोसिएशन के कार्यालय में दस्तावेज जमा कराने होंगे।
सूरत डायमंड एसोसिएशन के अध्यक्ष नानू वेकारिया ने कहा कि आज से विवरण मांगा जा रहा है। 15 तारीख तक प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी, जिसके बाद गुजरात भर में हीरा उद्योग से जुड़े सभी संघ जो उस शहर में जानकारी और दस्तावेज एकत्र करेंगे। इसके बाद वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए जो भी निर्णय लिया गया है। उसी के अनुसार दिया जाएगा।
जेम एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल के रीजनल चेयरमैन दिनेश नावडिया  ने कहा कि जेम एंड ज्वैलरी नेशनल रिलीफ फाउंडेशन लंबे समय से रत्न कलाकारों और उनके परिवारों की मदद कर रहा है। चाहे मंदी हो या किसी और तरह की स्थिति जब हीरा उद्योग से जुड़े लोग आर्थिक तंगी से जूझ रहे हों, फाउंडेशन मदद करता है। सूरत गुजरात ही नहीं मुंबई में भी बड़ी संख्या में लोग हीरा उद्योग से जुड़े हैं। इसलिए जेम एंड ज्वैलरी नेशनल रिलीफ फाउंडेशन ने सारी जानकारी जुटाकर शहर को देने की तैयारी कर ली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें