सूरत : चारधाम की यात्रा के लिए ऑनलाइन हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर धोखाधड़ी

प्रतिकात्मक तस्वीर

अमरेली के एक टैक्स कंसलटेंट ने गवाएं 37 हजार रुपए

आज के समय लोगों के चार धाम की यात्रा को आसान बनाने के कई उपाय प्रशासन और सरकार की ओर से किये जा रहे हैं। इसी क्रम में अब हेलीकोप्टर से चारधाम की यात्रा की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। हेलीकॉप्टर द्वारा चार धाम यात्रा निस्संदेह सबसे तेज और सुविधाजनक तरीकों में से एक है। लेकिन, पिछले कुछ वर्षों में, धोखाधड़ी के कई मामले सामने आए हैं जब भक्तों को हेलीकॉप्टर टिकट बुकिंग के नाम पर ठगे गये हो। एक ऐसा ही मामला अपने शहर में देखने को मिला जहाँ अमरोली पुलिस में कपोदरा के एक कर सलाहकार ने पवन हंस लिमिटेड पर हेलीकॉप्टर बुकिंग के नाम पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया हैं। शिकायतकर्ता के अनुसार इस साईट पर बुकिंग के दौरान उनके माता-पिता सहित कुल आठ लोगों के लगभग 38 हजार रुपयों का गबन हुआ है। 
जानकारी के अनुसार मोटा वराछा के लाजमनी चौक में स्थित धर्मजीवन रो हाउस में रहने वाले और मूल रूप से अमरेली के कुकावव के बरवाला बाविसी के रहने वाले सुभाष चंद्र रावजी सोर्थिया ने चारधाम की यात्रा के लिए ऑनलाइन हेलीकॉप्टर बुकिंग के बारे में गूगल पर सर्च किया। इस दौरान उन्हें पवन हंस लिमिटेड की साइट की जानकारी मिली। जिसे ओपन कर उन्होंने बुकिंग की। 
कंपनी के मुताबिक, सुभाष ने सभी आईडी प्रूफ भेजे और मैसेज में बताए गए पवन हंस लिमिटेड के बैंक खाते में 37,760 रुपये ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिए। हालांकि, इसके बाद कंपनी द्वारा बीमा के नाम पर और 16,000 रुपये की मांग करने पर सुभाष को संदेह हुआ और उन्होंने टिकट बुकिंग रद्द करने के बारे में सोचा। ऐसा करने पर कंपनी ने राशि की वापसी के लिए जवाब देना बंद कर दिया। साथ ही फोन रिसीव नहीं हुआ। अपने साथ धोखाधड़ी की जानकारी होते ही सुभाष ने पुलिस में पुरे मामले की शिकायत दर्ज कराई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें