सूरत : फ्लैट बैंक में गिरवी होने के बावजूद बेचा, फ्लैट खरीदने के 9 साल के बाद मिला नोटिस

अडाजन पुलिस ने अपराध दर्ज कर आगे की जांच की है।(फाइल फोटो)

फ्लैट मालिक बारडोली पुलिस से जमानत पर रिहा होने के बाद फरार
सूरत के अडाजन इलाके में गंगेश्वर महादेव मंदिर के सामने ग्रीन रेजिडेंसी फ्लैट एचडीएफसी फाइनेंशियल बैंक में गिरवी था। हालांकि तत्काल बेचने वाले फ्लैट के मालिक के खिलाफ अडाजन पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसके आधार पर पुलिस ने आगे की जांच की है।
गंगेश्वर महादेव मंदिर अडाजन के सामने ग्रीन रेजीडेंसी का फ्लैट नं. ए/101 में रहने वाले सीए धर्मेश धीरज तमाकुवाला की पत्नी दीपाबेन (उम्र. 50)  ने मार्च 2012 में फ्लैट नितिन गोपाल राणा ( निवासी  ए -47 भुलादेसाई पार्क मिनाक्षी वाडी कतारगाम) से 29 लाख रुपये में मां कलावतीबेन सुखारामवाला के नाम से खरीदा था।
अक्टूबर 2021 में उधना दरवाजा स्थित एचडीएफसी फाइनेंशियल सर्विसेज बैंक द्वारा नितिन राणा और उनके परिवार के नाम पर फ्लैट के अलावा अन्य संपत्ति के बंधक के लिए एक नोटिस जारी किया गया था। इससे स्तब्ध दीपाबेन तमाकुवाला ने अपने वकील की पड़ताल करते हुए पाया कि नितिन गोपाल राणा के खिलाफ बारडोली थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। इलाज के नाम पर जमानत पर छूटने के बाद वह फिलहाल फरार है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें