सूरत : उड़ीसा के ड्रग माफिया को क्राइम ब्रांच ने दबोचा, 3 करोड़ के गांजे के केस में था फरार

(Photo Credit : gujarati.news18.com)

उड़ीसा पुलिस द्वारा पकड़े गए 3157 किलो गाँजा के केस में वांटेड घोषित संजय पिछले कई समय से सूरत में छिपा था

पिछले काफी समय से गुजरात में नशीले पदार्थों की चोरी की घटनाएं काफी बढ़ गई है। ऐसे में उड़ीसा से आने वाले गाँजा का सप्लाय नेटवर्क तोड़ने के लिए सूरत पुलिस काफी समय से सक्रिय कार्य कर रही है। ऐसे में सूरत क्राइम ब्रांच द्वारा 3 करोड़ रुपए के गांजे के आरोप में फरार और सूरत में छिपे उड़ीसा के ड्रग माफिया को पकडने में कामयाबी हासिल की थी। 
सूरत में डीसीबी पुलिस टीम को ओडिशा राज्य के विभिन्न राज्यों में भांग के आपूर्तिकर्ताओं के साथ-साथ भांग विक्रेताओं की तलाशी के दौरान मिली जानकारी के अनुसार कतारगाम सर्कल लेक गार्डन के पास सड़क पर से संजय हरी गौड़ा को हिरासत में लिया गया था। आरोपी संजय गाँजा रखने के आरोप में गंजाम पुलिस स्टेशन में वोंटेड घोषित है। ऐसे में अब सूरत पुलिस द्वारा आरोपी को ओड़ीशा जामपापुर पुलिस स्टेशन सौंपा जाएगा। बता दे की जामपापुर पुलिस द्वारा संतोष मल्लिक नाम के शख्स के घर में छापा मार कर 3157 किलो गाँजा पकड़ा गया था। 
इस मामले में कूल आठ आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। संतोष मल्लिक, जिसके घर में से पुलिस को गाँजा मिला था उसका बिजनेस पार्टनर संजय पिछले कई समय से खुद को बचाने के लिए सूरत में आकर रहने लगा था। फिलहाल पुलिस पूछताछ में नशे के कारोबार से जुड़े अन्य कई रेकेट भी सामने आएंगे ऐसी संभावना रखी जा रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें