सूरत : भाजपा कार्यालय के सामने कांग्रेस ने गरबा पास पर 18 फीसदी जीएसटी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया

भाजपा कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन

गरबा टिकट पर जीएसटी लगाकर सरकार गरीबों को उत्सव से दुर कर रही हैः हरीश सूर्यवंशी

गरबा टिकट पर लगने वाले जीएसटी के विरोध में  भाजपा कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन
जीएसटी को लेकर राजनीतिक विरोध अभी भी देखने को मिल रहा है। आम आदमी पार्टी के बाद कांग्रेस ने भी आज गरबा टिकट पर जीएसटी दर को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस महिला मोर्चा द्वारा आज भाजपा कार्यालय में विरोध दर्ज कराया गया। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया।
कांग्रेस महिला मोर्चा ने आज भाजपा कार्यालय जाकर जमकर नारेबाजी की। सरकार द्वारा गरबा टिकट पर जीएसटी लगाया गया है। गरबा टिकट पर 18 फीसदी जीएसटी लगाने के फैसले को लेकर कांग्रेस ने आज सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा कार्यालय के बाहर से हिरासत में लिया गया।
कांग्रेस महिला अध्यक्ष भारतीबेन पटेल ने कहा कि भाजपा सरकार खुद को बहुत बड़ी हिंदुत्व और राष्ट्रवादी पार्टी मानती है। लेकिन इससे बढ़कर कोई झूठ नहीं हो सकता। मां अम्बे के प्रति आस्था और भक्ति रखने वाला कोई भी व्यक्ति इस तरह के त्योहार के लिए किसी खिलाड़ी से पैसे नहीं वसूल सकता। लेकिन हम समझ सकते हैं कि भारतीय जनता पार्टी को अलग-अलग गुट बनाने होंगे। इनका खर्चा बहुत ज्यादा होता है इसलिए ये आस्था के पर्व नवरात्रि से भी पैसा कमाने का मौका नहीं छोड़ते। 
कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को उधना पुलिस ने हिरासत में लिया
उधना विधासभा कांग्रेस के प्रभारी और सूरत शहर कांग्रेस के उपाध्यक्ष हरीश सूर्यवंशी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुजरात के गरबा उत्सव को प्रोत्साहीत करते है। गुजरात का विश्व प्रसिध्द गरबा महोत्सव के लिए देश विदेश में बसनेवाले गुजराती इस त्योहार को धार्मिक भावना और बडे ही उत्साह के साथ मनाते है। गरबा आयोजन के टिकट पर केन्द्र सरकार ने 18 प्रतिशत जीएसटी लगायी है जो व्याजबी नही है। पहले ही जीवनावश्यक चीजवस्तूओं पर सरकार ने 5 प्रतिशत जीएसटी लगा रखी है। गरबा आयोजनो पर 18 फीसदी जीएसटी लगाकर सरकार गरीब भक्तों को उत्सव मनाने से दुर कर रही है ऐसा आरोप हरीश सूर्यवंशी ने लगाया है। 
उधना मेईन रोड स्थित सूरत भाजपा कार्यालय कमलम पर विरोध प्रदर्शन और सूत्रोच्चार कर रही महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं और कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया। उधना पुलिस थाने ले जाकर पुलिस ने शाम को सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और नेताओं को छोड दिया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें