सूरत : आमली बांध में डूबे सभी 7 लोगों के शव बरामद, मौसम में खराबी से 11 जनवरी को पलटी थी नांव

(Photo Credit : navgujaratsamay.com)

सूरत जिले के आमली बांध में विगत 11 जनवरी को एक नांव डूब गई थी। मौसम की खराबी के कारण सरोवर में डूबी नांव में दस लोग सवार थे जो बांध के दूसरे छोर पर किसानी के लिये जा रहे थे। हादसे के बाद तीन लोग तैर कर सुरक्षित किनारे पर लौट आये थे। जबकि शेष सात लोग डूब गये। 
सुरक्षित बचे तीन लोगों में से एक 40 वर्षीय जितेन्द्र वसावा ने गांव वालों को हादसे की सूचना दी थी, जिसके बाद सूरत, बारडोली और मांडवी के दमकल दस्ते ने घटना स्थल पर पहुंच कर दो लोगों के शव निकाल लिये थे। लेकिन शेष पांच लोगों का पता नहीं चल रहा था। 
उसके बाद नेशनल डिसास्टर रिस्पॉंस फोर्स और स्टेट डिसास्टर रिस्पोंस फोर्स की टीमों ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरु किया और चार दिनों की मेहनत के बाद 80 फिट गहरे सरोवर से शेष पांच लोगों के भी शव बरामद किये। इस प्रकार हादसे में कुल सात लोगों की डूबने से मौत हो गई। मृतक आपस में रिश्तेदार हैं। मांडवी के मामलदार मनीष पटेल ने मीडिया को बताया है कि आमली बांध में पांच लाख मछलियों पालन की जिम्मेदारी मंडली और देवगिरी गांव के मछुआरों ने ले रखी थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें