सूरत : डेप्युटी कमिश्नर और स्टैंडिंग चेयरमैन अस्पताल पहुंचकर विषाख्त भोजन की असर भर्ती लोगों की मुलाकात ली

डॉ. आशीष नायक व स्थायी अध्यक्ष परेश पटेल ने अस्पताल में लोगों से मुलाकात की

शादी के अन्य मौकों पर भी कड़ी निगरानी रखी जाएगी, जिसमें नगर निगम की टीम फूड प्वाइजनिंग की जांच कर रही है

ओरियों शेक रबडी की वजह से विषाख्त भोजन की असर हुई
सूरत महानगरपालिका के कतारगाम जोन में शादी के मौके पर हुई फूड प्वाइजनिंग की घटना के बाद पालिका तंत्र सतर्क हो गया है। वहीं 49 लोगों को फूड प्वाइजनिंग के बाद इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। स्वास्थ्य एवं अस्पताल उपाआयुक्त व स्थायी समिति के अध्यक्ष ने अस्पताल पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।
कतारगाम शादी में फूड प्वाइजनिंग की घटना की सूचना मिलते ही नगर पालिका की टीम मौके पर पहुंची। फूड प्वाइजनिंग का असर देखकर लोगों ने मौके पर ही इलाज शुरू कर दिया। रात में हालत बिगड़ने पर लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।
सुबह नगर पालिका के स्वास्थ्य एवं खाद्य विभाग ने छापेमारी की, जबकि दिन में आयुक्त एवं अस्पताल डॉ. आशीष नायक व स्थायी अध्यक्ष परेश पटेल अस्पताल पहुंचे जहां फूड पॉइजनिंग पीड़ितों को भर्ती कराया गया था उस अस्पताल में जाकर लोगों के स्वास्थ का जायजा लिया। वर्तमान गर्मी के सिजन में  दूध उत्पादन में खराब होने का खतरा बना रहता है और इसे सावधानी से उपयोग करने की अपील की गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें