सूरत : आकरणी विभाग के चक्कर काटने से परेशान व्यक्ति ने ज़ोन ऑफिस में ही की आत्महत्या की कोशिश

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

कतारगाम का है ये मामला, घरवेरा में गलती से किसी और का नाम चढ़ जाने के बाद नाम सही कराने के लिए लगाने पड़े चक्कर पर चक्कर

सरकारी कार्यालयों में काम किस गति से होता है ये सबको पता है। सूरत में भी मनपा के कार्यालय इससे अछूते नहीं है।  मनपा के ज़ोन ऑफिस में छोटे-छोटे कामों के लिए भी बहुत धक्के खाने पड़ते है। हाल ही में एक ऐसी घटना हुई है मनपा कार्यालय में हो रहे धांधलेबाजी की पोल खोल कर रख दी है। ये घटना कतारगाम के अंचल कार्यालय में हुई, जहां एक व्यक्ति ने अपने घरवेरा में किसी गलत व्यक्ति के नाम की एंट्री की शिकायत दर्ज कराई थी। इस काम के लिए व्यक्ति को बार बार ऑफिस के धक्के लगाने पड़े जिससे कंटाल कर व्यक्ति ने कचहरी में  ही फिनाइल पीकर आत्महत्या की कोशिश की। 
मिली जानकारी के अनुसार डभोली रोड पर आये भूमि पार्क सोसाइटी के मकान के संपत्ति बिल में नाम को लेकर प्रशासन की ओर से कुछ त्रुटी थी। इस मामले में याचिकाकर्ता जगदीश वरिया ने खुद को घर का मालिक बताते हुए घरबेरा में चढ़े गलत नाम कम करने की मांग की। इस स्थिति को देखते हुए पेपरों की दोबारा जांच की गई। जिसमें विभाग की जांच में पता चला कि जगदीश वरिया ने दस्तावेज उप पंजीयक के समक्ष प्रस्तुत किया था।
इसके बाद अकरणी अधिकारी ने बताया कि दस्तावेजों के आधार पर ही जयेशगिरी गौस्वामी के नाम का उल्लेख किया गया है। इस संबंध में कोई आपत्ति हुई तो जयेशभाई को आपत्ति दर्ज कराकर न्यायालय में मामला दर्ज कराने के लिए राजी किया गया। दो-तीन दिन से लगातार इस मामलों को लेकर परेशान हो रहे जगदीश वरिया गुरुवार दोपहर कतारगाम के अंचल कार्यालय पहुंचे और गलती सुधारने की मांग की। हालांकि, जब उन्हें कोई जवाब नहीं मिला तो उन्होंने निजी अधिकारी के केबिन में जाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। घटना के बाद वहां के कर्मियों ने उसके हाथ से बोतल छीन ली और घटना की सूचना 108 को दी। इसके बाद व्यक्ति को स्मीमेर अस्पताल ले जाया गया जहाँ उसका इलाज चल रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें